सरसा के भूमण शाह चौक पर शांति पूर्वक धरना दे रहे किसानों को पुलिस ने जबरदस्ती उठाया

0
Farmers in Sirsa

मौके से 100 से ज्यादा किसानों को पुलिस ने लिया हिरासत में

सरसा(सच कहूँ/सुनील वर्मा)। बरनाला रोड स्थित भूमण शाह चौक पर मंगलवार दोपहर बाद से धरना दे रहे विभिन्न किसान संगठनों के सदस्यों को बुधवार करीब दस बजे पुलिस ने जबरदस्ती उठा दिया। इस दौरान करीब डेढ सौ से ज्यादा किसानों को पुलिस ने हिरासत में लिया। मंगलवार देर रात एसडीएम जयवीर यादव किसानों को समझाने के लिए किसानों के पास पहुंचे और उन्हें रास्ता खोलने का आह्वान किया। लेकिन किसान नहीं माने। इसके पश्चात बुधवार अलसुबह भी किसानों को उठाने की पुलिस द्वारा कोशिश की गई। लेकिन नाकामयाब रहे।

Farmers in Sirsa

तप्तपश्चात करीब 10 बजे पुलिस द्वारा रोडवेज की बसों को मंगवाया गया और धरना दे रहे हरियाणा किसान मंच के प्रदेशाध्यक्ष प्रहलाद सिंह भारूखेड़ा सहित अन्य किसानों को बसों में भरकर अलग-अलग थानों में ले जाया गया। इसके कुछ समय पश्चात अलग-अलग दो अन्य किसान संगठन धरनास्थल पर पहुंचे और धरना शुरू करने लगे। लेकिन उन्हें भी पुलिस ने उठा दिया तथा बस में भरकर थाने ले गई। किसानों को आरोप था कि उन्हें थानों में पुलिस द्वारा फोन भी इस्तेमाल नहीं करने दिया गया। इसके अलावा थाने में पीने के पानी के लिए भी कोई प्रबंध नहीं था।

गिरफ्तारी से गुस्साए किसानों ने विरोध में किया साहुवाला में नेशनल हाइवे-9 जाम

सरसा में मोदी सरकार के तीन किसान विरोधी काले कानूनों के खिलाफ उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला की कोठी के पास धरना दे रहे सैंकड़ो किसानों की गिरफ्तारी के विरोध में बुधवार को दोपहर किसानों ने नेशनल हाइवे 9 डबवाली-सरसा को साहुवाला गांव में जाम कर दिया। सैकड़ों की संख्या में किसान अपने साथियों की रिहाई के लिए सड़क पर जमे हुए है। इस दौरान किसानों ने सरकार व प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

उधर डिप्टी सीएम आवास की तरफ जाने वाली सड़क पर भारी संख्या में पुलिस बल मौजूद रहा। पुलिस अधीक्षक भूपेंद्र सिंह ने कहा कि किसी को कानून अपने हाथ में नहीं लेने दिया जाएगा। उन्होंने बताया कि मंगलवार को प्रदर्शन में उपद्रव करने वालों के खिलाफ भी एफआईआर दर्ज कर ली गई है।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।