राजस्थान

17 बालश्रमिकों को कराया मुक्त, आरोपी गिरफ्तार

Police, Child Laborers, Arrest, Accused, Rajasthan

तीन अलग-अलग थाना इलाके की कार्रवाई

जयपुर (सच कहूँ न्यूज)। शहर के तीन अलग-अलग थाना इलाके में पुलिस व मानव तस्करी यूनिट ने संयुक्त कार्रवाई करते हुए तीन अलग-अलग स्थानो पर छापा कर 17 बालश्रमिकों को मुक्त कराया है। थानाधिकारी ने बताया कि थाने में पुलिस ने दो रेस्टोरेंट में कार्रवाई करते हुए पांच बच्चों को मुक्त कराया और संचालक को काबू किया गया है। जानकारी के अनुसार मुखबीर से सूचना मिली कि थाना इलाके में स्थित फिराजे नोनवेज ढाबा व शिव सागर फैमीली रेस्टोरेंन्ट में नाबालिग बच्चों से काम करवाया जा रहा है।

इस पर पुलिस मौके पर पहुंची और दो रेस्टोरेंट में पांच छोटे-छोटे बच्चे काम करते पाए गए। जिन्हें पुलिस ने मुक्त कराया और चाईल्ड हैल्प लाईन भेज दिया गया। पुलिस ने फिराजे नोनवेज ढाबे के मालिक फिरोज खान व शिव सागर फैमिली वेज रेस्टोरेन्ट प्रकाश को गिरफ्तार किया गया।

आरोपियों को किया गिरफ्तार

थानाधिकारी ने बताया कि पुलिस ने चार जगहों पर कार्रवाई करते हुए आठ बालश्रमिकों को छुड़वाया गया और आरोपियों को गिरफ्तार किया। जानकारी के अनुसार मुखबीर से सूचना मिली कि गोटा फैक्ट्री के सामने एक बाइक रिपेयरिंग की दुकान में दो बच्चों से काम करवाया जा रहा है। इस पर पुलिस मौके पर पहुंची और आरोपी अब्दुल रजााक द्वारा दो नाबालिग बच्चों से बाइक रिपेयरिंग की दुकान पर काम करवाते पाये जाने पर उन्हें मुक्त कराकरआरोपी को गिरफ्तार किया गया। वहीं पुलिस ने तीन अन्य दुकानों पर कार्रवाई की।

नाबालिग बच्चों को मुक्त कराकर भिजवाया बालसंरक्षण गृह

जहां पुलिस ने जगन्नाथ शाह का रास्ता रामगंज में सिकन्दर द्वारा दो बच्चों से दुकान मे बालश्रम कराए गए जाने पर मुक्त कराकर आरोपी को गिरफ्तार किया गया। वहीं घोडा निकास रोड इरफानउद्दीन द्वारा दो बच्चों से दुकान मे बालश्रम करवाए जाने पर गिरफ्तार किया। उधर लक्ष्मीनारायणपुरी मोजम अली द्वारा दो बच्चों से दुकान मे बालश्रम करवाने पर हिरासत में लिया है। पुलिस के अनुसार मुखबीर से सूचना मिली कि इलाके में स्थित नींदडराव जी का रास्ता में चुड़ी बनाने के कारखाने मे नाबालिग बच्चों से चूडी बनाने का काम करवाया जा रहा है। इस पर पुलिस मौके पर पहुुंची और चार नाबालिग बच्चों को मुक्त कराकर बालसंरक्षण गृह भिजवाया।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top