Breaking News

साध्वी प्रज्ञा को लेकर पीएम मोदी का कांग्रेस पर निशाना

Narendra Modi

कहा- झूठी कहानी में बनाया खलनायक

नई दिल्ली (एजेंसी)।

साधवी प्रज्ञा के भाजपा में शामिल होने और भोपाल से चुनाव लड़ने को लेकर उठ रहे सवालों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जवाब दिया है। पीएम मोदी ने कहा कि जब एक साध्वी को प्रताड़ित किया जा रहा था, तब किसी ने इसका विरोध नहीं किया और न ही किसी ने सवाल पूछा। एक टीवी चैनल से बातचीत के दौरान पीएम मोदी ने कहा कि जब 1984 में इंदिरा गांधी की मृत्यु हुई, तब उनके बेटे ने कहा था कि जब एक बड़ा पेड़ गिरता है तो पृथ्वी हिलती है।

इसके बाद, हजारों सिखों का नरसंहार हुआ। क्या यह कुछ लोगों द्वारा फैलाया गया आतंक नहीं था? इसके बावजूद उन्हें देश का प्रधानमंत्री बनाया गया तब मीडिया ने कभी ऐसा सवाल नहीं पूछा, जैसा वह अब सवाल पूछ रहे हैं। पीएम मोदी ने कहा कि एक महिला और एक साध्वी को इस तरह प्रताड़ित किया गया, तब किसी ने अंगुली नहीं उठाई।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस पर कई गंभीर आरोप लगाए। उन्होंने कहा कि मैं गुजरात में रहता हूं, मैं कांग्रेस के सभी तौर-तरीकों को समझता हूं। कांग्रेस एक फिल्म की स्क्रिप्ट की तरह, एक कहानी गढने का काम करती है। वो कुछ उठाएँगे, उसमें कुछ जोड़ेंगे, अपनी कहानी के लिए एक खलनायक जोड़ेंगे तकि कहानी का झूठा प्रचार किया जा सके।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कांग्रेस को घेरते हुए कहा कि गुजरात में जो भी एनकाउंटर होते थे, कांग्रेस उसी के अनुसार एक स्क्रिप्ट तैयार करती थी। जज लोया का जिक्र करते हुए पीएम ने कहा कि उनकी मृत्यु प्राकृतिक थी, लेकिन कांग्रेस ने इसमें भी अपने हिसाब से एक कहानी बनाई और झूठ फैलाने का काम किया कि जज लोया की हत्या की गई है।

लोकसभा चुनाव में विपक्ष की चुनौती को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि मोदी के लिए सबसे बड़े चुनौती खुद मोदी ही हैं। मैंने हमेशा खुद को पूरी जिंदगी चुनौती दी है। कांग्रेस पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि आजादी के बाद पहली बार, कांग्रेस इतनी कम सीटों से लड़ रही है। उनके पास उम्मीदवार तक नहीं हैं। उन्हें सहयोगियों के साथ चुनाव लड़ने के लिए मजबूर होना पड़ा है।

कांग्रेस की न्याय योजना पर बालते हुए पीएम मोदी ने कहा कि हम देश के लिए सरकार चलाते हैं, अपनी पार्टी के लिए नहीं। यही हमारी सबसे बड़ी ताकत है। हम जो कुछ भी करते हैं वह देश और देश के 130 करोड़ लोगों के लिए है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019