पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से जनता त्रस्त, कांग्रेस का प्रदर्शन

0
Peoples pain due to rising petrol and diesel prices, Congress protest

हिरासत में लिए गए कांग्रेस कार्यकर्ता

  • पेट्रोल 3 हफ्ते में 9.17 पैसे महंगा हुआ
नई दिल्ली (सच कहूँ न्यूज)। पेट्रोल-डीजल अपने रिकॉर्ड स्तर पर हैं। आम जनता त्रस्त है। लेकिन, सरकार किसी भी तरीके से इसे सस्ता करने की कोशिश नहीं कर रही है। पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से राहत मिलने की उम्मीद फिलहाल कम है। सोमवार को पेट्रोल की कीमत पाँच पैसे बढ़कर 80.43 रुपये प्रति लीटर पर पहुँच गई जो 27 अक्टूबर 2018 के बाद का उच्चतम स्तर है। डीजल का मूल्य भी 13 पैसे बढ़कर 80.53 रुपये प्रति लीटर के नये रिकॉर्ड स्तर पर रहा। देश में पेट्रोल-डीजल की कीमतें बढ़ने का मौजूदा क्रम 07 जून से शुरू हुआ। इस दौरान दिल्ली में पेट्रोल अब तक 9.17 रुपये यानी 12.87 प्रतिशत और डीजल 11.14 रुपये यानी 16.05 प्रतिशत महँगा हुआ है। वहीं पेट्रोल-डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी के खिलाफ कांग्रेस सोमवार को देशभर में प्रदर्शन किया।
People's pain due to rising petrol and diesel prices, Congress protest (2)People's pain due to rising petrol and diesel prices, Congress protest
दिल्ली कांग्रेस के कार्यकर्ता जब मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपराज्यपाल अनिल बैजल के घर के बाहर प्रदर्शन करने जा रहे थे, तो दिल्ली पुलिस ने सभी को हिरासत में ले लिया। उधर बेंगलुरु में कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया प्रदर्शन में शामिल होने के लिए साइकिल से निकले।

देश के चार प्रमुख महानगरों में पेट्रोल-डीजल की कीमत

महानगर            पेट्रोल                  डीजल
दिल्ली               80.43(+05)        80.53(+13)
कोलकाता          82.10(+05)        75.64(+12)
मुंबई                 87.19(+05)        78.83(+12)
चेन्नई               83.63(+04)        77.72(+11)

एक लीटर डीजल पर 66% सरकार टैक्स वसूल रही है सरकार

अभी क्रूड आयल 40 डॉलर प्रति बैरल पर है। 16 जून के प्राइस ब्रेकअप के मुताबिक, दिल्ली में डीजल 75.19 रुपए पर था। इसमें बेस प्राइस, किराया भाड़ा और डीलर कमीशन 25.76 रुपया था। इसके ऊपर 50 रुपए सरकार टैक्स के तौर पर वसूल रही है। यानी एक लीटर डीजल के लिए आप जितना पैसा दे रहे हैं, उसका 66% हिस्सा सरकार टैक्स वसूल रही है।

राहुल का ईंधन दर वृद्धि के विरुद्ध अभियान से जुड़ने का आह्वान

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कोरोना संकट के बीच पेट्रोल डीजल की कीमतें बढ़ाने के सरकार के फैसले को जनता के साथ अन्याय बताते हुए लोगो से इसके विरुद्ध शुरू किए गए अभियान में शामिल होने का आह्वान किया है। गांधी ने सोमवार को ट्वीट कर कहा “आइए ईंधन दरों में बढ़ोतरी के खिलाफ आयोजित अभियान से जुड़ें। इसके साथ ही उन्होंने कांग्रेस का इस बढ़ोतरी के खिलाफ जारी अभियान का एक घंटे चार मिनट का वीडियो पोस्ट किया है जिसमें पार्टी ने कहा है कि निष्ठुर केंद्र सरकार ने लोगो को उनके हालात पर छोड़ दिया है और लोगो के घावों पर मरहम लगाने की बजाय नमक छिड़क रही है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।