Breaking News

डेरा सच्चा सौदा का 71वां स्थापना माह : नामचर्चाओं में उमड़ी राम नाम के दीवानों की भीड़

People gathers in huge number at naamcharcha

चंडीगढ़ (सच कहूँ न्यूज)। डेरा सच्चा सौदा के 71वें पावन स्थापना माह व ‘जाम-ए-इन्सां गुरु का’ की 13वीं वर्षगांठ माह के उपलक्ष्य में देशभर में आयोजित नमाचर्चाओं में राम नाम के दीवानों का अथाह समंदर उमड़ रहा है।पावन स्थापना माह को समर्पित नामचर्चाओं में साध-संगत द्वारा बढ़-चढ़कर परोपकार के कार्य किए जा रहे हैं। इस अवसर पर जगह-जगह जरूरतमंद बच्चों को पुस्तकें व शिक्षण सामग्री वितरित की गई। शनिवार को पंजाब राज्य के ब्लॉकों जलालाबाद, अबोहर, श्रीमुक्तसर साहिब, फरीदकोट में आयोजित नामचर्चाओं में भारी तादाद में उमड़ी साध-संगत ने राम नाम का गुणगान किया तथा पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां द्वारा चलाए गए 134 मानवता भलाई कार्यों को और तीव्र रफ्तार देने का संकल्प लिया।  नामचर्चा घरों में साध-संगत का उत्साह देखते ही बन रहा है।

शनिवार को नामचर्चा घरों में चारों तरफ संगत ही संगत थी और पंडाल में पैर रखने के लिए जगह नहीं थी। साध-संगत के लिए किए गए सारे इंतजाम छोटे पड़ गए। फिर भी साध-संगत का प्रेम और अनुशासन देखने योग्य था। इस दौरान नामचर्चाओं में उपस्थित साध-संगत को जिम्मेवारोें ने एकजुट रहने का आह्वान किया और अफवाहों से बचने की अपील भी की। वहीं आज रविवार 7 अप्रैल को भी हरियाणा, पंजाब, राजस्थान, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड व दिल्ली के अलावा अन्य राज्यों में साध-संगत द्वारा जरूरतमंदों की मद्द कर मानवता भलाई के कार्य किए जाएंगे।

ज्ञात रहे कि 29 अप्रैल 1948 को पूजनीय सार्इं शाह मस्ताना जी महाराज ने सर्वधर्म संगम डेरा सच्चा सौदा की स्थापना की थी। तबसे ही साध-संगत हर वर्ष पूरे अप्रैल माह को डेरा सच्चा सौदा के पावन रूहानी स्थापना माह के उपलक्ष्य में मनाती है तथा इस दौरान अनेक जन कल्याण व परोपकार के कार्य भी किए जाते हैं। बता दें कि डेरा सच्चा सौदा के नाम मानवता भलाई कार्यों में 70 से ज्यादा विश्व रिकॉर्ड हैं। डेरा की सीनियर वाईस चेयरपर्सन शोभा इन्सां ने बताया कि डेरा सच्चा सौदा की साध-संगत द्वारा हर वर्ष इस माह को बड़े ही धूमधाम व हर्षोल्लास से मनाया जाता है। पूरे माह साध-संगत परोपकार के कार्य करती है। उन्होंने बताया कि परोपकार का यह कारवां पूरे अप्रैल माह जारी रहेगा।

 

 

 

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top