पुलिस की सख्ती के बाद घरों में घुसे लोग

0
janta-curfew

संगरूर। जनता कर्फ्यू के बाद सोमवार सुबह हल्की ढील मिलते ही इलाके के लोग अपने घरों से बाहर सड़कों पर निकल पड़े। शहर के बाजार, कारखाने, बस स्टैंड, रेलवे स्टेशन इत्यादि पूर्ण तौर पर बंद रहने के बावजूद लोग बेवजह सड़कों पर आ गए। (Police Action) बेशक सुबह के समय पुलिस ने लोगों को सहजता से अपने घरों में रहने की अपील की, लेकिन लोगों के अड़ियल रवैये के कारण डीसी संगरूर ने सोमवार दोपहर दो बजे से कर्फ्यू लगाने के आदेश जारी किए, जिसके बाद पुलिस ने सख्ती बरतते हुए शहर की बाजारों में खुली दुकानें बंद करवाई, वहीं लोगों को घरों में खदेड़ा।

  • एसडीएम बबनदीप सिंह, डीएसपी सतपाल शर्मा की अगुआई में पुलिस ने शहर के बाजारों में फ्लैग मार्च निकाला।
  • डीसी ने भी वीडियो के जरिये लोगों को कर्फ्यू के दौरान अपने घरों में रहने की अपील की।
  • पुलिस ने सख्त रुख अपनाते हुए सब्जी मंडी, दवा की दुकानें, डेयरियां भी बंद करवाई।

रेलगाड़ी में अब सौ के करीब ही यात्री मौजूद हैं, लेकिन सभी भूखे हैं

अहमदगढ़ के स्टेशन पर दोपहर को पहुंची दादर एक्सप्रेस में यात्रियों से लेकर रेल स्टाफ की हालत बेहद खस्ता दिखाई दी  रेलगाड़ी में मौजूद अधिकारी पीएस किकर ने बताया कि वह शनिवार को मुंबई से चले थे। रेलगाड़ी में रविवार शाम तक के खाने का सामान मौजूद था, लेकिन इसके बाद खाना खत्म हो गया।

  • बेशक रेलगाड़ी में अब सौ के करीब ही यात्री मौजूद हैं, लेकिन सभी भूखे हैं।
  • यात्रियों के लिए बिस्कुट की व्यवस्था की गई है।
  • रेलगाड़ी लुधियाना से होते हुए अमृतसर जाएंगी, जिसके बाद ही लोगों को राहत की सांस मिलेगी।

दिड़बा : पंजाब सरकार द्वारा कोरोना वायरस से लोगों को बचाने हेतु दिए कर्फ्यू के निर्देश के चलते बाजार पूरी तरह से बंद रहे। हालांकि सुबह लोग बाजारों व दुकानों पर सामान लेते हुए नजर आए, लेकिन बाद में प्रशासन द्वारा सभी दुकानें बंद करवा दी गई। एसडीएम दिड़बा मनजीत सिंह चीमा द्वारा क्षेत्र का जायजा लिया गया।

  • सरकार ने कोरोना वायरस को महामारी का दर्जा दे दिया है,  जिसे लेकर लोगों में डर बना हुआ है।
  •  इस सबके बावजूद लोगों द्वारा प्रशासन को पूरा सहयोग मिल रहा है।
  • लोग सरकार द्वारा घोषित किए गए कर्फ्यू में अपना सहयोग प्रदान करें।

धूरी। कोरोना वायरस को रोकने व लोगों की सुरक्षा हेतु केंद्र सरकार द्वारा बड़े स्तर पर प्रबंध किए जा रहे हैं। इसके तहत धूरी शहर में सोमवार को दूसरे दिन भी जरूरी चीजों दूध, मेडिकल, राशन की दुकानों को छोड़ बाकी तकरीबन सभी दुकानें बंद रहीं व सड़कें सुनसान नजर आई। एसडीएम धूरी लतीफ अहमद द्वारा शहर के बाजारों का दौरा कर लोगों को महामारी से बचाव हेतु घरों में रहने के निर्देश दिए।

  • कारोबारियों तथा दुकानदारों को दुकानें बंद रखने के निर्देश दिए।
  • रेलगाड़ियां बंद करने के एलान के बाद शहर का रेलवे स्टेशन पूरी तरह से सुनसान नजर आया।
  • कर्फ्यू के दौरान लोग अपने घरों में बैठे।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।