सड़क पर पड़े नोट लोगों ने नहीं उठाए, पुलिस आई और उठा ले गई

0
Notes on the road

कोरोना के भय से सड़क पर पड़े नोटों को लोगों ने नहीं उठाया

(Notes on the road)

  • तुरंत पुलिस को सूचना दी
  • पटौदी खंड के गांव बलेवा की है घटना

सच कहूँ/संजय मेहरा गुरुग्राम। जिला के एक गांव में मुख्य सड़क पर काफी संख्या में नोट पड़े थे, लेकिन लोगों ने कोरोना संक्रमण के भय से उन्हें उठाना मुनासिब नहीं समझा। सरपंच ने पुलिस को सूचना दी और मौके पर पहुंची पुलिस ने उन्हें पहले सेनिटाइज किया और फिर एक थैली में डालकर जांच के लिए ले गई।  जानकारी के अनुसार गांव बलेवा में सड़क पर गांव के राजू प्रधान के घर के सामने 50, 100, 200 और 500 रुपए के कई नोट थोड़ी-थोड़ी दूरी पर पड़े थे। राजू जब अपने घर से बाहर निकला तो उसने इन नोटों को देखा। ऐसे सड़क पर गिरे नोटों को देख राजू को मामला संदिग्ध लगा।

  • नोटों से दूरी बनाए रखकर उसने गांव के ही नंबरदार, चौकीदार और सरपंच दर्शन को इस बाबत सूचना दी।
  • सरपंच से गांव में कई लोगों से पूछा भी क्या किसी गांव के ही आदमी के नोट कहीं गिरे तो नहीं हैं।
  • सड़क पर नोट मिलने की बात पूरे गांव में फैल गई। मौके पर लोगों की भीड़ भी लग गई।
  • किसी की हिम्मत नहीं हुई कि इन नोटों को कोई हाथ तक लगाए। करीब पांच हजार के यह नोट थे।
  • इसकी घटना की जानकारी पुलिस को दी गई। थोड़ी ही देर में पटौदी पुलिस मौके पर पहुंची।
  • पूछताछ के बाद पुलिस ने नोटों के कोरोना संक्रमित होने की आशंका के चलते बेहद ही सावधानी के साथ नोटों को उठाया।
  • पहले उन्हें सेनिटाइज किया गया। फिर पुलिस सभी नोटों को थाने ले गई।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।