बठिंडा : खूनी बने बरनाला बायपास वाले कट

0
Traffic Rules
Violation, Traffic, Rules

लोग ट्रैफिक नियमों की उड़ा रहे धज्जियां, अधिकारी भूले पुलिस की तैनाती | Traffic Rules

बठिंडा(सच कहूँ/अशोक वर्मा।)। पूरा दिन होती आवाजायी नियमों की उल्लंघना (Traffic Rules) ने बठिंडा-चंडीगढ़ राष्टÑीय मार्ग पर बरनाला बायपास पर बने दो कटों को खूनी बना दिया है। यह कट इतने खतरनाक हैं कि यहां पलक झपकते ही कोई न कोई हादसा घटित हो जाता है। ऊपर से ट्रैफिक पुलिस की तैनाती न होने के कारण पूरे दिन लोग अपनी मनमर्जी करते रहते हैं। कटों पर हर समय टैÑफिक नियमों की उल्लंघना करने वालों से हर समय किसी अनहोनी का खतरा बना रहता है व नियमों की पालना करने वाले भी हमेशा खतरे में रहते हैं। इन कटों से आमने-सामने तो आवाजायी चलती ही है बल्कि स्लिप रोड भी हर समय गाड़ियों के बोझ नीचे दबी रहती है।

ट्रैफिक लाईटें जम्प करना आम बात बनी हुई है | Traffic Rules

ट्रैफिक के इस भारी भीड़ भड़के के दौरान आवाजायी नियमों की उल्लंघना कितनी महंगी पड़ सकती है इसका अनुमान लगाना कोई मुश्लिक वाली बात नहीं है। दोनों कटों पर पुलिस की कोई तैनाती नहीं है जो लोगों को कानून तोड़ने के लिए उत्साहित करती है। पुलिस कर्मचारी तो तब ही तैनात किए जाते हैं जब किसी वीआईपी ने सड़क से गुजरना होता है। इस पत्रकार ने मौके पर जाकर देखा तो ट्रैफिक लाईटें जम्प करना आम बात बनी हुई है। उल्लंघना के मामले में दूसरा नंबर तेज रफ्तार का है जबकि ट्रिपल राईडिंग की पाबंदी भी यहां लागू नहीं है। इन कटों पर लोग बिना इधर-उधर देखे अपना वाहन क्रॉस करते हैं। इस मामले में किसी खास वर्ग को दोष नहीं दिया जा सकता।

जांच के बाद की जाएगी कार्रवाई : एसपी ट्रैफिक | Traffic Rules

एससी टैÑफिक दविन्द्र सिंह का कहना था कि कर्मचारी तैनात किए जाते हैं लेकिन कई बार अन्य जगह पर ड्यूटी आ जाए तो समस्या खड़ी हो जाती है। उन्होंने कहा कि नियम भंग करने की किसी को भी स्वीकृति नहीं दी जाएगी। उन्होंने कहा कि फिर भी इस मामले की जांच कर जरू री कार्रवाई यकीनी बनाई जाएगी।

ट्रैफिक पुलिस गायब | Traffic Rules

  • बठिंडा से चंडीगढ़ जाने वाली इस सड़क पर गोबिन्द सिंह नगर व किशोरी राम मार्ग के सामने
  • वाले कटों पर यातायात को नियंत्रण करने के लिए ट्रैफिक लाईटें लगाई गई हैं।
  • श्री गंगानगर, अबोहर व फाजिल्का से चंडीगढ़ या आगे हिमाचल या पंचकूला आदि की तरफ जाने के लिए यह मुख्य सड़क है।
  • चहुंमार्गीय होने के बाद वाहनों की रफ्तार काफी तेज हो गई है।
  • दर्जन के करीब कॉलोनियों के लिए यही दो रास्ते हैं जहां सारा दिन वाहनों का आना जाना लगा रहता है।
  • इन तथ्यों को देखते हर समय टैÑफिक पुलिस तैनात करनी लाजमी है परंतु कई महीने
  • पहले गायब हुए पुलिस कर्मचारी अब दिखाई नहीं दे रहे हैं।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।