हरियाणा में गैर कानूनी रूप से चलने वाले अल्ट्रासाउंड केंद्रों पर कसेगा और शिकंजा

0
Order-of-check-on-fetus

भ्रूण जांच करने वाले गिरोहों/केंद्रों पर जल्द कार्यवाही के आदेश

(Order of check on fetus)

चंडीगढ़ (सच कहूँ ब्यूरो)। मुख्यमंत्री सुशासन सहयोगी कार्यक्रम के परियोजना निदेशक डॉ. राकेश गुप्ता ने पीएनडीटी एक्ट के तहत प्रदेश के सभी जिलों में गैर कानूनी रुप से चलने वाले अल्ट्रासाउंड केंद्र तथा भ्रूण जांच करने वालों के खिलाफ जल्द से जल्द कार्यवाही करने के निर्देश दिए और कहा कि इस कार्य में ढिलाई बिल्कुल न बरती जाए और जिन अल्ट्रासाउंड केंद्रों को शो कॉज नोटिस जारी किए गए हैं उन पर तुरंत कार्यवाई कर रिपोर्ट भिजवाएं। यह निर्देश डॉ. राकेश गुप्ता ने द्वारा देर सायं वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से सभी जिला उपायुक्तों, चीफ मेडिकल अधिकारियों, पुलिस अधिकारियों, शिक्षा विभाग के अधिकारियों, नगर निगम व नगर परिषद के अधिकारियों के साथ विभिन्न योजनाओं की समीक्षा करने के दौरान दिए।

बैठक में पीएनडीटी एक्ट, एमटीपी, पोक्सो एक्ट,  सीएम विंडो, सोशल मीडिया ग्रीवांस ट्रैकर, हरपथ एप…

  • हरियाणा विजन जीरो, महिला सुरक्षा- वन स्टॉप सेंटर।
  • स्वच्छ सर्वेक्षण मॉडयूल, अंत्योदय सरल प्रोजेक्ट।
  • उच्च शिक्षा मॉडयूल, सक्षम हरियाणा (शिक्षा)।
  • रोजगार व कौशल विकास आदि कार्यों की समीक्षा की गई।
  • डॉ. राकेश गुप्ता ने निर्देश दिए कि पीएनडीटी, एमटीपी।
  • पोक्सो एक्ट की अनुपालना में नियमित रूप से छापेमारी की जाती रहे।
  • इसके साथ-साथ अल्ट्रासाउंड केंद्रों की समय-समय पर जांच की जाए।
  • नागरिकों को बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ के लिए प्रोत्साहित किया जाए।

महिला सुरक्षा के लिए सरकार प्रतिबद्ध

डॉ. गुप्ता ने कहा कि महिला सुरक्षा के लिए प्रदेश सरकार प्रतिबद्ध है। सभी जिलों में वन स्टॉप सेंटर स्थापित किए गए हैं और इन केंद्रों में जरुरत्मन्द एवं पीड़ित महिलाओं के लिए मनोवैज्ञानिक, स्वास्थ्य एवं कानूनी हर प्रकार की नि:शुल्क सुविधाएं उप्लब्ध करवाई जा रही हैं। इसके अलावा, महिलाओं के रहने और खाने की व्यवस्था भी उपलब्ध है। सभी जिले इसके लिए जागरूकता अभियान चलाएं ताकि महिलाओं को इनके बारे में अधिक से अधिक पता चल सके। डॉ. राकेश गुप्ता ने सभी पुलिध अधिक्षकों को को अपने जिला पुलिस कर्मचारियों को जागरूक करने और जरूरतमंद एवं पीडित महिलाओं को वन स्टॉप सेंटर भेजने के निर्देश दिए। उन्होंने सोनीपत, अम्बाला और सिरसा जिला प्रशासन की खामियाँ की तरफ ध्यान आकर्षित करते हुए उनको बेहतर प्रयास करने के लिए कहा।

सीएम विंडो पर आने वाली शिकायतों पर समयबद्ध हो निवारण

डॉ. गुप्ता ने कहा कि सीएम विंडो पर आने वाली शिकायतों का समयबद्ध निवारण होना चाहिए। उन्होंने कहा कि कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के तहत किसानों की बीमा से संबंधित जो शिकायतें सीएम विंडो पर हैं, उन्हें कंज्यूमर कोर्ट में भिजवाने का कार्य करें, ताकि किसानों को उसका लाभ मिल सके। इसके साथ ही, सोशल मीडिया ग्रिवेंसिज ट्रैकर पर आने वाली शिकायतों की भी रेगुलर मोनिटरिंग की जाए और निर्धारित समय में शिकायतों का निपटान किया जाए। अंत्योदय सरल के माध्यम से दी जाने वाली सेवाएं समयबद्ध होनी चाहिए। इस पोर्टल के माध्यम से कार्य तो हो रहा है परंतु कई बार निर्धारित समयावधि के बाद सेवा का लाभ दिया जा रहा है, जिससे पोर्टल स्कोर में कोई वृद्धि नही होती। इसलिए पीछे चल रहे जिले अपनी कार्यप्रणाली में तेजी लाएं।

हर घर से कूड़ा उठाने का कार्य हो शत प्रतिशत

डॉ. गुप्ता ने कहा कि स्वच्छ मिशन के तहत घर-घर से कूड़ा उठाने का कार्य शत-प्रतिशत होना चाहिए। हरियाणा के सभी नगर निगम और नगर पालिकाओं ने जनवरी माह में स्वच्छ सर्वेक्षण 2020 में भाग लिया, जिसमें मंत्रालय से आये सर्वेयरों ने सभी शहरों का निरिक्षण किया। डॉ. राकेश गुप्ता ने सभी उपायुक्तों व नगर निगम आयुक्तों से अगले साल के लिए अभी से जोर शोर से कार्य करने के निर्देश दिए ताकि हरियाणा के शहर और जिले स्वच्छता सर्वेक्षण में शीर्ष पर आ सकें। उन्होंने सभी नगर निगम और नगर पालिकाओं को कचरे के निपटान पर विशेष ध्यान देने और घर-घर से गीला व सूखा कचरा अलग-अलग उठाने तथा सभी सार्वजनिक शौचालयों की नियमित साफ-सफाई व रख-रखाव करने के निर्देश दिए।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।