नागरिकता कानून का विरोध: अहमदाबाद से कांग्रेस पार्षद समेत 49 लोग गिरफ्तार

0

उत्तर प्रदेश के संभल में हिंसा  मामले में 17  के खिलाफ एफआईआर | Citizenship Law

Edited By Vijay Sharma

गुजरात (एजेंसी)। पुलिस ने नागरिकता कानून ( citizenship Law) के खिलाफ हिंसक प्रदर्शन में शामिल रहे 5 हजार लोगों पर हत्या की साजिश और अन्य धाराओं में केस दर्ज किया है। शुक्रवार को इस मामले में अहमदाबाद से कांग्रेस पार्षद समेत 49 लोगों की गिरफ्तारी हुई। उधर, उत्तर प्रदेश के संभल में हिंसा के मामले में 17 लोगों के खिलाफ एफआईआर हुई। इनमें समाजवादी पार्टी के सांसद शफीकुर्रहमान बर्क और फिरोज खान भी शामिल हैं। वहीं, असम में प्रदर्शन और हिंसा के बाद बंद हुई इंटरनेट सेवा 9 दिन बाद बहाल हुई।

दिल्ली: हिंसक प्रदर्शन के बाद राज्यों के हालात

नागरिकता कानून और एनआरसी के खिलाफ जामिया नगर समेत कई जगहों पर प्रदर्शन का ऐलान किया गया है। भीम आर्मी के प्रमुख चंद्रशेखर आजाद उर्फ रावण ने जामा मस्जिद से जंतर मंतर तक मार्च निकालेंगे, हालांकि पुलिस की तरफ से उन्हें इजाजत नहीं मिली। डीएमआरसी के मुताबिक, राजधानी में आज सभी मेट्रो स्टेशन खुले हैं। पुलिस ने स्वराज इंडिया के योगेंद्र यादव, वरिष्ठ वकील प्रशांत भूषण, शिक्षाविद हर्ष मंदर, छात्र नेता उमर खालिद और कांग्रेस नेता संदीप दीक्षित समेत 1200 लोगों को हिरासत में लिया था। जिन्हें बवाना, नांगलोई और केशवपुरम में बनाई गई अस्थायी जेलों में रखा गया है।

  • बिहार: राजद ने नागरिकता कानून के खिलाफ शनिवार को प्रदेश में बंद बुलाया है।
  • तेजस्वी यादव ने कहा कि यह कानून असंवैधानिक और मानवता विरोधी है।
  • इससे भाजपा का विभाजनकारी चरित्र सामने आ गया है।
  • गुरुवार को बंद के दौरान राज्य के कई जिलों में माकपा कार्यकर्ताओं ने रेलवे ट्रैक और हाईवे जाम किए थे।
  • असम: सभी जिलों में शुक्रवार को इंटरनेट सेवा बहाल हो गई है।
  • यहां प्रदर्शन और हिंसा के चलते 11 दिसंबर से इंटरनेट पर रोक लगाई गई थी।
  • मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल ने कहा- किसी के अधिकारों का हनन नहीं होगा।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।