हरियाणा

आॅनलाइन मॉनिटरिंग से पता चलेगा हवा में कितना जहर

Air Pollution, Online Monitoring, CAAQMS, Haryana

 प्रदेश के 19 जिलों में बनेंगे आॅनलाइन परवेशी वायु गुणवत्ता निरीक्षण (सीएएक्यूएम) स्टेशन

  • सर्वर के माध्यम से आंकड़ों पर है पैनी निगाह

चंडीगढ़(सच कहूँ न्यूज)। हरियाणा राज्य प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने परवेशी वायु में प्रदूषण के स्तर को मापने के लिए राज्य के जिला मुख्यालयों पर 19 निरंतर आॅनलाइन परवेशी वायु गुणवत्ता निरीक्षण (सीएएक्यूएम) स्टेशन स्थापित करने का निर्णय लिया है। बोर्ड ने परवेशी वायु में प्रदूषण के स्तर को मापने के लिए फरीदाबाद, गुरुग्राम, रोहतक और पंचकूला में सीएएक्यूएम स्टेशन पहले ही स्थापित कर दिए हैं। बोर्ड के मुख्यालय पर सर्वर के माध्यम से इन शहरों की परवेशी वायु गुणवत्ता के आंकड़ों का विशलेषण किया जा रहा है और इस आंकड़े को केन्द्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड को भी उपलब्ध करवाया जा रहा है।

उन्होंने बताया कि उद्योगों द्वारा उत्सर्जित वायु प्रदूषण के नियंत्रण के लिए उद्योगों को वायु प्रदूषण नियंत्रण उपकरण स्थापित करने के लिए प्रेरित किया जा रहा है तथा बोर्ड उनका निरीक्षण भी कर रहा है। वायु प्रदूषण फैलाने वाले किसी भी उद्योग को वायु प्रदूषण नियंत्रण उपकरण के बिना संचालन की अनुमति नहीं है और पर्याप्त रूप से वायु प्रदूषण नियंत्रण उपाय किए जाने के उपरांत ही ऐसे उद्योगों को संचालन की अनुमति दी जाती है।

उद्योगों के लिए भी वायु प्रदूषण नियंत्रण उपकरणवायु प्रदूषण फैलाने वाले अधिकतर उद्योगों द्वारा वायु प्रदूषण नियंत्रण उपकरण स्थापित किए जा चुके हैं। उन्होंने कहा कि सभी नए उद्योगों को वायु प्रदूषण नियंत्रण उपकरण स्थापित करने के निर्देश दिए गए हैं। वायु प्रदूषण नियंत्रण उपकरणों की स्थापना से प्रदेश में परवेशी वायु की गुणवत्ता में सुधार सुनिश्चित होगा।

इन जिलों में खुलेंगे सीएएक्यूएम स्टेशन

पानीपत, सोनीपत, रेवाड़ी (धारूहेड़ा), बहादुरगढ़, कैथल, करनाल, यमुनानगर, गुरुग्राम (मानेसर), फरीदाबाद (सेक्टर-55 और 56), अंबाला, भिवानी, फतेहाबाद, हिसार, जींद, कुरुक्षेत्र, महेन्द्रगढ़, नंूह, पलवल और सरसा।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019