अब एक क्लिक पर देख सकेंगे शिक्षा विभाग का डाटा

0
Education

प्रदेशभर के शिक्षकों सहित कर्मचारियों व अधिकारियों का रिकॉर्ड हो रहा आॅनलाइन

  • कर्मचारी व अधिकारी भी तमाम सुविधाएं आॅनलाइन कर सकेंगे प्राप्त
  • जिला के 5558 में से 2481 की सर्विस बुक हुई आॅनलाइन, 839 का रिकॉर्ड अभी पेंडिंग

सच कहूँ/सुनील वर्मा सरसा। प्रदेश का शिक्षा विभाग (Education) भी अब आपको जल्द हाईटेक नजर आएगा। जिससे प्रदेशभर के शिक्षा विभाग में कार्यरत सभी कर्मचारियों व अधिकारियों की सर्विस बुक सहित अन्य दस्तावेज निदेशालय में बैठे अधिकारी एक क्लिक पर देख सकेंगे तथा कर्मचारी भी तमाम जानकारी आॅनलाइन प्राप्त कर सकेंगे। प्रदेशभर में शिक्षा विभाग की ओर से शिक्षकों सहित अन्य कर्मचारियों व अधिकारियों का सारा रिकॉर्ड आॅनलाइन किया जा रहा है।

अगर बात सरसा जिला की करें तो यहां पहली से बारहवीं कक्षा तक कुल 5558 कर्मचारी व अधिकारी नियुक्त है। जिनमें पहली से आठवीं में 3811 व 9 वीं से 12 वीं में 1747 कर्मचारी व अधिकारी शामिल है। 18 दिसंबर तक जिला में दोनों श्रेणियों में 2481 कर्मचारियों व अधिकारियों का रिकॉर्ड फ्रिज हो चुका था। जिनमें 9 वीं से 12 वीं का 719 व पहली से आठवीं का 1762 शामिल है।

जबकि 839 का रिकॉर्ड अभी पेंडिंग था। इनमें नौंवीं से बारहवीं के 281 व पहली से आठवीं के 558 शामिल है। वहीं 1500 कर्मचारियों व अधिकारियों का डाटा इम्पलोई के पास है। इनमें भी नौंवीं से बारहवीं के 474 व पहली से आठवीं के 1026 का रिकॉर्ड शामिल हैं। उधर रिकॉर्ड आॅनलाइन को लेकर विभाग के निदेशक राकेश गुप्ता 24 दिसंबर को प्रदेश के सभी जिलों के जिला शिक्षा अधिकारियों की बैठक वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के द्वारा जिला उपायुक्तों के माध्यम से लेंगे। जिसमें इस कार्य की पूरी समीक्षा की जाएगी।

25 दिसंबर तक अपलोड करना होगा रिकॉर्ड | Education

विभाग ने शिक्षकों व अन्य कर्मचारियों तथा अधिकारियों को अपना रिकॉर्ड आॅनलाइन करने के लिए 25 दिसंबर की डेडलाइन जारी की हुई है। इससे पहले-पहले सभी को सर्विस बुक के अलावा अन्य दस्तावेज को आॅनलाइन करना होगा। शिक्षकों व अन्य कर्मचारियों को यह एचआरएमएस पर अपलोड करने के बाद वापस भेजा जा रहा है। इसके बाद विभाग की ओर से इसे पोर्टल पर अपलोड कर दिया जाएगा। प्रक्रिया पूरी होने के बाद इसे शिक्षा निदेशालय की बेवसाइट पर भी अपलोड किया जाएगा।

क्या होगा फायदा

सर्विस बुक अपलोड होने के बाद सभी कर्मचारियों का अकाउंट खुलेगा और उन्हें आईडी व पासवर्ड दिया जाएगा। इसके जरिए उन्हें विभाग के सभी निर्देश की जानकारी होगी। इसके अलावा कर्मचारी आॅनलाइन ही अपनी सुविधाओं की मांग कर सकेंगे। जिसमें एसीपी से लेकर, प्रमोशन, छुट्टी आदि आॅनलाइन स्वीकृत हो जाएगी। वहीं इसका सबसे बड़ा फायदा यह भी होगा कि इससे कर्मचारी व अधिकारियों में सीधा जुड़ाव होगा। जिससे वह अपनी बात सीधा उच्च अधिकारियों तक पहुंचा सकेंगे।

‘‘जिला में शिक्षा विभाग के अंदर 5558 कर्मचारी व अधिकारी नियुक्त है। जिनमें से अब तक 2481 की सर्विस बुक को आॅनलाइन कर दिया गया है। इससे कर्मचारी विभाग की सुविधा और अपने जीपीएफ की जानकारी भी आॅनलाइन प्राप्त कर सकेंगे। 25 दिसंबर तक इसे आॅनलाइन करना है।
– राजेश चौहान शेखावत, जिला शिक्षा अधिकारी, सरसा।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।