गांव माना के सड़क की हालत बनी दयनीय

0
No Clearance,Water in Village, Proper Facilities, Punjab

गांव में पानी की निकासी के नहीं हैं उचित्त प्रबंध

  • सड़क में जमा दूषित पानी में से गुजरने का मजबूर लोग

मालेरकोटला(गुरतेज जोशी)।

मालेरकोटला के पास के दर्जनों गांवों को जोड़ती स्थानीय माना फाटक से गांव मानां को जाती सड़क पर बरसात के पानी की निकासी न के बराबर है यदि हलकी सी बरसात भी पड़ जाये तो कई हफ्ते सड़क से पानी ही नहीं सूखता, जिस कारण इस सड़क से निकलने वालों को बहुत सी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, स्कूल के बच्चों को सुबह व शाम इस गंदे पानी में से ही गुजरना पड़ रहा है, जिससे हर रोज उनकी स्कूल की वर्दी गंदी हो जाती है।

मौहल्ला निवासियों व राहगीरों ने बताया कि हम पहले भी कई बार प्रशासन और नगर कौंसिल का इस सड़क पर ठहरे गंदे पानी प्रति ध्यान दिलवा चुके हैं परंतु हर बार हमें बहानों व बदनामी का ही सामना करना पड़ा है।

इस संबंधी स्थानीय निवासियों ने कहा कि उनको हर वक्त इस गंदे पानी में से ही गुजरना पड़ता है, जिससे उनको बहुत दिक्कत आती है उन्होंने नगर कौसिंल को बहुत नम्रता के साथ अपील की है कि वह इन हालातों की तरफ ध्यान दें कि वह किस स्थिति में अपनी जिंदगी बसर कर रहे हैं।

स्थानीय निवासियों ने नगर कौंसिल से की समस्या के हल की मांग

निवासी मोहम्मद अनवार ने कहा कि नगर कौंसिल को इस गंदे पानी का कोई पक्का हल करना चाहिए। उन्होंने कहा कि एक तरफ तो सरकार मलेरिया व डेंगू की रोकथाम के लिए लाखों रुपए खर्च कर रही है वहीं दूसरी तरफ इस सड़क पर जमा दूषित पानी हमें अनेकों बीमारियों का न्योता दे रहा है।

समस्या का समाधान न होने पर दी संघर्ष की चेतावनी

इस मौके क्षेत्रीय निवासी, आजम, फरूक, नाजिम, साबर, मोहम्मद असरफ, मोहम्मद अमजद, निकूं व मोहल्ला निवासियों ने नगर कौंसिल की निंदा की व उन्होंने कहा कि यदि हमारी सड़क पर जमा गंदे पानी का कोई हल नहीं किया गया तो हम मोहल्ला निवासी इकठ्ठे होकर नगर कौंसिल मालेकोटला में धरना दिया जाएगा।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।