नेतन्याहू के खिलाफ अभियोग पत्र पेश

0
Netanyahu

नेतन्याहू के खिलाफ कोर्ट में 63 पन्नों की अभियोग रिपोर्ट पेश | Netanyahu

येरुशलम (एजेंसी)। इजराइल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू पर धोखाधड़ी, रिश्वतखोरी और विश्वासघात (Netanyahu) करने के आरोप लगे हैं। देश के इतिहास में पहली बार किसी प्रधानमंत्री के खिलाफ ऐसे गंभीर आरोप लगाए गए। अटॉर्नी जनरल एविशाय मंडेलब्लिट ने गुरुवार को नेतन्याहू के खिलाफ कोर्ट में 63 पन्नों की अभियोग रिपोर्ट पेश की।

3 महीनों की जांच के बाद ये रिपोर्ट पेश की गई। नेतन्याहू इजराइल में सबसे ज्यादा समय पद पर रहने वाले प्रधानमंत्री हैं। नेतन्याहू और उनकी पत्नी सारा को राजनीतिक फायदा पहुंचाने के बदले 2.6 लाख डॉलर (करीब 1.86 करोड़ रु.) की महंगी वस्तुएं मिलीं। उन्होंने सकारात्मक खबरें प्रकाशित करवाने के लिए दो मीडिया संस्थानों के लिए मध्यस्थता भी की। मीडिया संस्थानों को लाभ पहुंचाने के लिए सांसदों और अफसरों से बातचीत की।

नेतन्याहू ने आरोपों को हमेशा खारिज किया | Netanyahu

नेतन्याहू ने अपने ऊपर लगे आरोपों को हमेशा खारिज किया। वे खुद को राजनीतिक साजिश का शिकार बताकर अपना बचाव करते रहे हैं। इस साल अक्टूबर में उनकी कानूनी टीम ने 4 दिन तक प्रोसेक्यूटरों के साथ जिरह की थी। इस टीम ने प्रधानमंत्री पर लगे आरोपों को खारिज करने या कम करने की मांग की थी। इसके बाद भी मामले में कोई ज्यादा अंतर नहीं आया।

कानून के प्रति पूरी प्रतिबद्धता के चलते लिया निर्णय | Netanyahu

मंडेलब्लिट ने रिपोर्ट पेश करने के बाद कहा, मैंने यह निर्णय भारी मन से, लेकिन कानून के प्रति पूरी प्रतिबद्धता के चलते लिया। ये मेरी ड्यूटी है कि इजराइल के लोगों के लिए सुनिश्चित करूं कि वे एक ऐसे देश में रहते हैं, जहां पर कोई कानून से ‌ऊपर नहीं है। भ्रष्टचार से संबंधित संदेहों की पूरी तरह से जांच होती है। कानून का पालन करना विवेक का काम नहीं है, यह एक बाध्यता है, जिसे सभी को मानना जरूरी है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करे।