खेल

मुंबई 6 साल बाद फाइनल में पहुंचा

Mumbai Reached Final In 6 Years

विजय हजारे ट्रॉफी वनडे टूर्नामेंट: पृथ्वी शाह और श्रेयस अय्यर ने बनाए अर्धशतक

बेंगलुरु (एजेंसी)।

जबरदस्त फार्म में चल रहे भारतीय ओपनर पृथ्वी शॉ (61) और कप्तान श्रेयस अय्यर (नाबाद 55) के शानदार अर्धशतकों से मुंबई ने हैदराबाद को वर्षा बाधित मुकाबले में वीजेडी पद्धति के तहत बुधवार को 60 रन से हराकर विजय हजारे ट्रॉफी एकदिवसीय टूर्नामेंट के फाइनल में जगह बना ली। मुंबई की टीम छह साल बाद विजय हजारे ट्रॉफी के फाइनल में पहुंची है। उसे 2011-12 के फाइनल में बंगाल से हार का सामना करना पड़ा था। मुंबई ने इससे पहले 2006-07 में राजस्थान को हराकर खिताब जीता था। वर्ष 2003-04 में जब फाइनल नहीं खेले जाते थे तब मुंबई की टीम विजेता रही थी। मुंबई का फाइनल में दिल्ली और झारखंड के बीच दूसरे सेमीफाइनल के विजेता से 20 अक्तूबर को मुकाबला होगा। हैदराबाद ने रोहित रायुडू के नाबाद 121 रन की बदौलत 50 ओवर में आठ विकेट पर 246 रन का चुनौतीपूर्ण स्कोर बनाया। रायुडू को छोड़कर हैदराबाद का कोई अन्य बल्लेबाज़ अच्छा योगदान नहीं दे सका। बी संदीप ने 29, मेहदी हसन ने 23 और आकाश भंडारी ने 19 रन बनाए।

लक्ष्य का पीछा करते हुए पृथ्वी और भारतीय एकदिवसीय टीम के उपकप्तान रोहित शर्मा ने टीम को जोरदार शुरुआत दी। बारिश की आशंका दिखाई दे रही थी और दोनों बल्लेबाज़ों ने तेज़ शुरुआत करते हुए पहले विकेट के लिए 9.5 ओवर में ही 73 रन ठोक डाले। इनमें से रोहित का योगदान मात्र 17 रन था। उन्होंने 24 गेंदों की पारी में दो चौके लगाए। भारत के लिए अपने पहले दो टेस्टों में शतक और अर्धशतक बना चुके 18 वर्षीय युवा बल्लेबाज़ पृथ्वी ने ताबड़तोड़ अंदाज़ में बल्लेबाजी करते हुए 44 गेंदों पर 61 रन में आठ चौके और दो छक्के लगाए। रोहित का विकेट 73 और पृथ्वी का विकेट 82 के स्कोर पर गिरा। दोनों बल्लेबाज़ों को मेहदी हसन ने आउट किया। इसके बाद कप्तान अय्यर और अजिंक्या रहाणे ने टीम के स्कोर को 25 ओवर में दो विकेट पर 155 रन पर पहुंचा दिया। इस स्कोर के बाद बारिश शुरु हो गयी और फिर खेल संभव नहीं हो सका। 25 ओवर में दो विकेट के नुकसान पर पार स्कोर 95 रन था जबकि मुंबई ने 155 रन बना लिए थे।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top