Breaking News

दो दशक पुरानी दुश्मनी भुलाकर मुलायम माया एक मंच पर

Mulayam Singh Yadav expressed gratitude to BSP supremo in a meeting held

मुलायम सिंह यादव ने भरी सभा में बसपा सुप्रीमो के प्रति आभार जताया

मैनपुरी (एजेंसी)। उत्तर प्रदेश का मैनपुरी जिला शुक्रवार को भारतीय राजनीति में करीब 24 सालों तक एक दूसरे के कट्टर प्रतिद्धंदी रहे समाजवादी पार्टी (सपा) संस्थापक मुलायम सिंह यादव और बहुजन समाज पार्टी (बसपा) सुप्रीमो मायावती के मंच साझा किये जाने का गवाह बना। वर्ष 1995 में उत्तर प्रदेश की राजनीति में भूचाल लाने वाले गेस्ट हाउस कांड के बाद यह पहला मौका था जब इन दोनो नेताओं ने मंच साझा किया।

इस ऐतिहासिक नजारे का गवाह बनने के लिये क्रिश्चियन ग्राउंड हजारों लोग की भीड़ से खचाखच भरा था। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को केन्द्र की सत्ता से बेदखल करने के इरादे से सपा-बसपा की संयुक्त रैली में सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, मायावती के भतीजे आकाश आनंद और बसपा महासचिव सतीश चन्द्र मिश्रा समेत कई दिग्गज मौजूद थे। इस मौके पर मैनपुरी से सपा उम्मीदवार मुलायम सिंह यादव ने भरी सभा में बसपा सुप्रीमो के प्रति आभार जताया जबकि मंच पर मुलायम के आते ही सुश्री मायावती ने खड़े होकर उनका अभिवादन कर एक दूरगामी संदेश दिया।

 

 

 

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019