मोदी का हरियाणा को तोहफा, पानीपत में बनेगा ‘बल्क ड्रग्स पार्क’

0
Bulk Drugs Park

 ‘आत्मनिर्भर भारत’ अभियान के तहत देश में तीन बल्क ड्रग्स पार्क होंगे स्थापित

Bulk Drugs Park

  •  खट्टर सरकार ने एचएसआईआईडीसी को सौंपी पार्क स्थापित करने की जिम्मेदारी

सच कहूँ/अनिल कक्कड़ चंडीगढ़। कोरोना महामारी के बाद फार्मा उद्योगों को कच्चे माल के लिए अन्य देशों पर निर्भर न रहना पड़े, इसके लिए केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ‘आत्मनिर्भर भारत’ अभियान के मद्देनजर देश में तीन ‘बल्क ड्रग्स पार्क’ स्थापित करने का निर्णय लिया है, जिनमें से एक हरियाणा के पानीपत में बनेगा। पानीपत में यह बल्क ड्रग पार्क स्थापित करने की जिम्मेदारी खट्टर सरकार ने हरियाणा राज्य औद्योगिक एवं ढांचागत विकास निगम (एचएसआईआईडीसी) को सौंपी है। राज्य की मुख्य सचिव केशनी आनंद अरोड़ा की अध्यक्षता में यहां हुई एक समीक्षा बैठक में एचएसआईआईडीसी के प्रबंध निदेशक अनुराग अग्रवाल ने इस प्रस्तावित पार्क को लेकर प्रस्तुतिकरण दिया और इस परियोजना को हासिल करने के लिए उठाए जा रहे कदमों की जानकारी दी।

70/30 रेश्यो से होगा निवेश

अग्रवाल ने बताया कि केंद्र सरकार प्रत्येक बल्क ड्रग पार्क के लिए अधिकतम 1000 करोड़ रुपये का अनुदान देगी, जो कुल निवेश का 70 प्रतिशत है तथा शेष 30 प्रतिशत राज्य सरकार द्वारा वहन किया जाएगा। एचएसआईआईडीसी के पास पानीपत औद्योगिक एस्टेट में 500 एकड़ से अधिक भूमि उपलब्ध है और इस परियोजना पर अनुमानित पूंजी निवेश 2500 से 3000 करोड़ रुपये आएगा।

पड़ोसी राज्यों को आसानी से प्राप्त होगा कच्चा माल

अग्रवाल ने कहा कि पानीपत की नई दिल्ली से निकटता से पड़ोसी राज्यों पंजाब, उत्तराखंड, नई दिल्ली और उत्तर प्रदेश राज्यों को इस ड्रग पार्क से कच्चे माल की उपलब्धता आसान होगी। साथ ही कच्चे माले के आयात में भी कमी आएगी। इस पार्क में सॉल्वेंट रिकवरी प्लांट, डिस्टिलेशन प्लांट, पॉवर एंड स्टीम इकाइयां, कॉमन एफ्लुएंट ट्रीटमेंट प्लांट आदि जैसी सामान्य सुविधाएं भी होंगी।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।