पंजाब के गुस्साए किसानों की बात सुनें मोदी: राहुल

0
Cashless System

नयी दिल्ली। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कृषि संबंधित तीन कानूनों के विरोध में पंजाब के किसानों के गुस्से को खतरनाक करार देते हुए सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को सलाह दी कि उन्हें विरोध प्रदर्शन कर रहे किसानों की बात सुननी चाहिए। गांधी ने कहा कि पंजाब में किसानों ने दशहरे के अवसर पर रविवार को प्रधानमंत्री के पुतले जलाकर अपने गुस्से का इजहार किया और यह स्थिति लोकतंत्र के लिए अच्छी नहीं है।

यह भी पढ़े – पंजाब सरकार के कृषि बिल बनाम कृषि संकट

गांधी ने ट्वीट किया, “यह पूरे पंजाब में जो कल हुआ। यह दुखद है कि पंजाब में प्रधानमंत्री के प्रति लोगों में इतना आक्रोश है। यह बहुत खतरनाक है और हमारे देश के लिए इस तरह की स्थिति अच्छी नहीं है। प्रधानमंत्री को गुस्साए लोगों से मिलकर उनकी बात सुननी चाहिए और जल्द से जल्द उनकी समस्या पर ध्यान देना चाहिए।” इसके साथ ही उन्होंने आज एक अखबार में छपी खबर भी पोस्ट की है जिसमें कहा गया है कि किसान यूनियन के नेतृत्व में हाल ही में संसद में पारित किसान संबंधी तीन कानूनों के विरोध में दशहरा पर राज्य में कल जगह-जगह मोदी, उद्योगपति मुकेश अंबानी और गौतम अडानी के पुतले फूंके गए। खबर के अनुसार किसानों ने कहा है कि यदि इन कानूनों को वापस नहीं लिया जाता है तो पंजाब में आंदोलन और तेज किया जाएगा।

 

 

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।