42 माह से लापता मंदबुद्धि युवक को परिजनों से मिलाया

0
Dera followers

 मंदबुद्धि लोगों का इलाज करवाकर उनके घर पहुंचाने का कार्य जारी

केसरीसिंहपुर, सच कहूँ/बाबूलाल। डेरा सच्चा सौदा के पूज्य गुरु संत डॉ. गुरमीत राम रहीम सिंह जी इन्सां द्वारा चलाए गए मानवता भलाई के कार्यों पर चलते हुए उनके अनुयाई समाजहित के लिए कई कार्य कर रहे हैं। स्थानीय ब्लॉक केसरीसिंहपुर के सेवादार भी इन कार्यो के लिए दिन रात एक कर रहे है। मण्डी में घूम रहे मंदबुद्धि लोगों का इलाज करवाकर उनके घर पहुंचाने का कार्य लगातार जारी किया हुआ है। 42 माह से लापता मानसिक रोगी के परिजनों के लिए सोमवार का दिन खुशियों का पैगाम लेकर आया। एक बार फिर स्थानीय डेरा प्रेमी राजेन्द्र इन्सां एवं उसकी टीम मानसिक रोगियों के लिए वरदान साबित हुई।

  • उनकी ओर से यह 44वां प्रयास था जिसमे वे सफल हुए।
  • परिवार से बिछुड़े मानसिक रोगी को एक बार फिर मिला दिया ।

समाजसेवी राजु सचदेवा को यह युवा केसरीसिंहपुर क्षेत्र में घूमता नजर आया

मध्यप्रदेश थाना पटेरा जिला दमोह तहसील पट्टी के गांव हरपालपुरा की रहने युवा 30 वर्षीय लगभग 42 महीने से लापता थी। घरवाले बहुत परेशान थे और उन्होंने बहुत तलाश की, लेकिन कोई सुराग नहीं लगा। घरवालों ने समझा अब हमारा बेटा घर नहीं आएगा और उसे मरा हुआ समझ लिया। प्राप्त जानकारी के अनुसार कुछ दिन पहले मंडी के समाजसेवी राजु सचदेवा को यह युवा केसरीसिंहपुर क्षेत्र में घूमता नजर आया। राजेंद्र इन्सां ने आधार कार्ड वह अन्य सूत्रों से सुराग निकाला तो उसकी पहचान ओंकार पुत्र परमलाल सिंह जाति कुशवाह के रूप में हुई। युवा के घर का ठिकाना लगाकर उनके भाई को सूचना दी गई।

  • आज उनके भाई, जीजाजी व माताजी उन्हें लेने वहां पहुंचे व अपनी मां को देखकर आखें नम हो गई।
  • कानूनी प्रक्रिया के बाद ओंकार को उनके परिवार के हवाले कर दिया गया।
  • परिवार के मेम्बरों ने डेरा सच्चा सौदा के अनुयायियों की मानवता की प्रशंसा की व धन्यवाद भी किया।

राजेंद्र इन्सां सहित इस मानवता भलाई के कार्य में पूरा परिवार का पूरा सहयोग रहा व काला सिंह इन्सां आदि का भरपूर सहयोग रहा। थाना अधिकारी सुरेंद्र पूनिया समस्त स्टाफ राजेंद्र शर्मा व वार्ड पार्षद सोमनाथ का आभार जताया व डेरा सच्चा सौदा के मानवता कार्यो की प्रशंसा की।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।