दिल्ली और हरियाणा से आए प्रवासी श्रमिक बने चिंता का सबब

0
Migrant Workers

Migrant Workers | प्रवासी श्रमिक बड़ी चिंता का कारण

लखनऊ (एजेंसी)। दिल्ली और हरियाणा से हजारों की तादाद में उत्तर प्रदेश पहुंच चुके श्रमिक स्वास्थ्य और चिकित्सा विशेषज्ञों के लिए चिंता का सबब बने हुए हैं। किंग जार्ज मेडिकल यूनीवर्सिटी के कुलपति प्रो मदन लाल ब्रम्हा भट्ट ने मंगलवार को कहा कि ‘प्रवासी श्रमिक बड़ी चिंता का कारण है। ए श्रमिक राज्य की स्वास्थ्य व्यवस्था का भविष्य तय करेंगे। बाहर से आए श्रमिकों को अपने परिवार की सुरक्षा के लिए खुद को एकांतवास में रहना होगा। यही उनके और परिवार के लिए सही होगा। उन्होने कहा कि लखनऊ सोमवार से पहले तक कोरोना पाजीटिव मामलों से मुक्त हो चुका था।

कनिका कपूर ने सरकार की मुश्किलों में इजाफा किया

ऐसा इसलिए संभव हुआ क्योंकि सरकार द्वारा सोशल डिस्टेसिंग के नियमों का कड़ाई से पालन किया गया। लोगों ने प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अपील पर 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का अक्षरश: पालन किया जबकि अगले ही दिन मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने 17 जिलों में लाकडाउन की घोषणा की जिसके बाद प्रधानमंत्री ने देश भर में लाकडाउन कर दिया। उन्होने कहा, ‘इस लाकडाउन का मकसद लोगों के बीच खाई पैदा करना था ताकि कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोका जा सके लेकिन बालीवुड गायिका कनिका कपूर ने सरकार की मुश्किलों में इजाफा किया।यह तो गनीमत रही कि गायिका के संपर्क में आए हुए लोगों में संक्रमण की पुष्टि नहीं हुयी। हमें लाकडाउन की अवधि तक खुद को संयमित और अनुशासित रखना होगा, तभी हम खुद को और देश को बडी मुसीबत से बचा सकते हैं।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।