मुख्यमंत्री ने दी व्यापारियों और उद्योगों को बिजली स्थायी शुल्क में छूट

0
Manohar Lal Khattar

समाज के सभी लोग अपनी-अपनी जिम्मेवारी को निभाएं

चंडीगढ़। Haryana News in Hindi Today: हरियाणा के मुख्यमंत्री Manohar Lal Khattar ने ने व्यापारियों, औद्योगिक इकाइयां अथवा अन्य कार्य करने वाले लोगों जिन्होंने बिजली के बड़े कनेक्शन लिए हुए हैं, उन्हें प्रति माह भुगतान करने वाले स्थाई शुल्क में छूट देने की घोषणा की है। श्री खट्टर ने प्रदेशवासियों को सम्बोधित करते हुये कहा कि इसके तहत, 50 किलोवाट तक के बिजली के कनेक्शन की युनिट की खपत यदि 50 प्रतिशत या इससे कम होती है तो उनका पिछले और इस महीने का स्थाई शुल्क माफ कर दिया जाएगा। इसके अलावा, 50 किलोवाट से बड़े एचटी (हाईटेंशन) के कनेक्शन के तहत अधिकतम 10 हजार रुपये तक की सीमा का स्थाई शुल्क इन बिलों में माफ किया जाएगा।

उन्होंने सरकारी अनुबंध में काम करने वाले सभी कॉन्ट्रैक्टर को राहत देते हुए घोषणा की कि यह लॉकडाउन की जो अवधि है, इसे जीरो अवधि मानकर उनके अनुबंध में इतनी समायवधि की छूट दी जाएगी। उन्होंने व्यापारियों से यह भी आग्रह किया कि उनके यहां कार्य करने वाले कर्मचारी और मजदूर वर्ग का अपने परिवार की तरह ख्याल रखें और उन्हें न तो काम से निकालें न ही उनका वेतन काटें। उन्होंने कहा कि इस संकट की घड़ी ऐसे सभी परिवारों की चिंता हम सबको मिलकर करनी है। इसलिए समाज के सभी लोग अपनी-अपनी जिम्मेवारी को निभाएं तभी हम सभी इस समय का मुकाबला कर सकते हैं।

एकता दिखाकर इस संकट के समय का सामना करना

मुख्यमंत्री ने व्यापारियों, औद्योगिक इकाइयों और उद्योगपतियों का आह्वान किया है कि इस लॉकडाउन अवधि के दौरान वे अपना व्यापार ऑनलाइन माध्यम से करें और अपने उत्पादों को घर द्वार तक पहुंचाएं। उन्होंने कहा कि इस दौरान नगद लेन-देन न करें बल्कि डिजिटल माध्यम से लेन-देन को बढ़ावा दें।

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता को जनता कर्फ्यू के लिए आह्वान किया था, जिसे जनता ने पूरे अनुशासन के साथ पालन करके सार्थक बनाया। इसी प्रकार, प्रधानमंत्री ने अब पांच अप्रैल रविवार को रात्रि नौ बजे ठीक 9 मिनट तक सब अपने घर की लाइटें बंद कर अपने हाथ में टॉर्च, मोबाइल की फ्लैश लाइट, मोमबत्तियां और दीपक जलाकर प्रकाश करेंगे। जिसका उद्देश्य अपनी एकता दिखाकर इस संकट के समय का सामना करना है।

राशन का वितरण नि:शुल्क

श्री खट्टर ने कहा कि प्रदेश सरकार समाज के हर वर्ग का ध्यान रख रही हैं और परिस्थितियों के अनुसार निरंतर कदम उठा रही है। उन्होंने कहा कि आर्थिक रूप से कमजोर लोग और गरीब परिवारों को प्रदेश सरकार द्वारा मासिक और सप्ताहिक वित्तिय सहायता राशि देना शुरू किया गया है। इसके अलावा, केंद्र सरकार की सहायता से इस महीने का राशन पांच अप्रैल तक भिजवा दिया जाएगा और राशन का वितरण नि:शुल्क दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि अंतोदय योजना के तहत प्रति परिवार 70 किलो राशन और बीपीएल परिवारों को 10 किलो प्रति व्यक्ति के हिसाब से राशन मिलेगा।

उन्होंने डॉक्टर, नर्स, पुलिस, सफाई कर्मचारी, अन्य आवश्यक सेवाओं में लगे कर्मचारियों, जो 24 घंटे लोगों की सुरक्षा और कल्याण के लिए कार्यरत हैं, उनका आभार व्यक्त करते हुए कहा कि वे इस कष्टदायक पीड़ा में लगातार राष्ट्र रक्षक के रूप में कार्य कर रहे हैं। उन्होंने लोगों को आवश्यक वस्तुएं घर द्वार तक पहुंचाने और जरूरतमंदों को खाना मुहैया करवाने के लिए स्वयं सेवी संस्थाओं और वॉलंटियर्स का भी आभार व्यक्ति किया।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।