नम आंखों से किया मनोहर लाल इन्सां का अंतिम संस्कार

0
13
Manohar Lal Insa

 आईजी बठिंडा जोन के भरोसे के बाद साध-संगत का धरना समाप्त

(Manohar Lal Insa Murder Case)

  •  ऐसे मामलों की जांच में वक्त लगता है, आरोपी जल्द होंगे गिरफ्तार: आईजी

सुरेन्द्रपाल सलाबतपुरा/ भगता भाईका। भटिंडा के कस्बा भगता भाई में 20 नवंबर को डेरा श्रद्धालु मनोहर लाल इन्सां की हत्या के मामले में बुधवार को साध-संगत ने आईजी के भरोसे के बाद धरना समाप्त किया। साध-संगत ने इंसाफ की मांग को लेकर पिछले चार दिनों से बरनाला-बाजाखाना रोड़ पर धरना लगाया हुआ था। पांचवें दिन बठिंडा जोन के आईजी जसकरण सिंह साध-संगत के बीच पहुंचे और साध-संगत को तेजी से जांच करने का भरोसा दिया, जिसके बाद साध-संगत ने धरना उठाया और गमगीन माहौल में भगता भाईका की शमशानघाट में मनोहर लाल इन्सां का अंतिम संस्कार किया। अंतिम संस्कार में बड़ी संख्या में डेरा श्रद्धालु शामिल हुए।

Manohar Lal Insa

धरने की समाप्ति के बाद एक काफिले के रूप में मनोहर लाल इन्सां की मृतक देह को सलाबतपुरा से भगता भाईका लाया गया। इस दौरान डेरा श्रद्धालुओं ने ‘मनोहर लाल इन्सां अमर रहे’,‘जब तक सूरज-चांद रहेगा, मनोहर लाल इन्सां तुम्हारा नाम रहेगा’ के आकाश गुंजाऊ नारे लगाए।  उनके शव को भगता भाईका की शमशान घाट में लाया गया। साध-संगत ने डेरा सच्चा सौदा की मर्यादा अनुसार विनती का शब्द बोला। उसके बाद मनोहर लाल इन्सां की मृतक देह को उनके पुत्र जतिन्द्रवीर जिम्मी इन्सां ने मुखाग्नि दी।

 शव को काफिले में रूप में भगता भाईका की शमशान घाट में लेकर गई साध-संगत

गौरतलब है कि बुधवार को बठिंडा जोन के आईजी जसकरण सिंह व एसएसपी बठिंडा भूपेन्द्रजीत सिंह विर्क जिम्मेवार सेवादारों के साथ मीटिंग करने के लिए सलाबतपुरा पहुंचे। मीटिंग में भरोसे के बाद आईजी ने धरनास्थल पर मुख्य मंच से साध-संगत को संबोधित करते हुए विश्वास दिलवाया कि वे हत्या मामले में पूरी गहराई से जांच कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इस प्रकार के मामलों में जांच के लिए कुछ वक्त लगता है, लेकिन फिर भी पुलिस तीव्रता से कार्रवाई कर रही है। उन्होंने भरोसा दिया कि हत्याकांड को अंजाम देने वालों को जल्दी ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा। इस मौके डेरा सच्चा सौदा के सीनियर वाइस चेयरमैन जगजीत सिंह इन्सां, जतिन्द्र महाशा, साध-संगत राजनीतिक विंग के राम सिंह चेयरमैन, बलराज इन्सां, 45 मैंबर हरचरण इन्सां, जसवीर इन्सां, रवि इन्सां, संतोष इन्सां, सेवक गोनियाना, बलजिन्द्र बांडी व गुरदेव सिंह इन्सां सहित बड़ी संख्या में साध-संगत उपस्थित थी।

बेअदबी करन वालेयां दा कख ना रहे: डेरा श्रद्धालु

सलाबतपुरा धरने में उस वक्त माहौल भावुक हो गया, जब 45 मैंबर हरचरण इन्सां व समूह साध-संगत ने बठिंडा जोन के आईजी जसकरण सिंह और एसएसपी भूपेन्द्रजीत सिंह विर्क की उपस्थिति में परम पिता परमात्मा से अरदास की कि ‘जिनां लोकां ने पवित्र श्री गुरु ग्रंथ साहिब जी दी बेअदबी कीती है, बेअदबी करन दी साजिश रची, जिनां लोकां ने साड्डे मत्थे ते धक्के नाल कलंक मढया, हे परमात्मा अल्लाह, वाहेगुरु, राम ओहनां दा इस धरती ते कख ना रहे।’

साध-संगत की सहमति के बाद किया धरना समाप्त

45 मैंबर हरचरण सिंह इन्सां ने बताया कि आईजी बठिंडा जोन जसकरण सिंह व एसएसपी बठिंडा भूपेन्द्रजीत सिंह विर्क ने उन्हें हत्या मामले की जांच से संबंधित अब तक के तथ्यों से अवगत करवाया। उन्होंने कहा कि वरिष्ठ अधिकारियों के भरोसे के बाद विश्वास उपरांत साध-संगत की सहमति से धरना समाप्त करने के बाद मनोहर लाल इन्सां का अंतिम संस्कार कर दिया है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।