यूपी में लखनऊ समेत 15 जिले 25 मार्च तक लाकडाउन

0
Lockdown-lucknow

मुख्यमंत्री ने जनता कर्फ्यू की अवधि को सुबह तक बढाने के निर्देश दिये हैं ( Lucknow Lockdown)

लखनऊ (एजेंसी)। कोरोना वायरस पर प्रभावी नियंत्रण पाने की कवायद के तहत उत्तर प्रदेश सरकार ने लखनऊ समेत राज्य के 15 जिलों को लाकडाउन कर दिया है। योगी ने रविवार को बताया कि राज्य की जनता की सुरक्षा सर्वोपरि है और इसे ध्यान रखते हुये लखनऊ, वाराणसी, गोरखपुर, कानपुर, मेरठ, बरेली, आगरा, प्रयागराज, गाजियाबाद, नोएडा, अलीगढ़, सहारनपुर, लखीमपुर, आजमगढ़, और मुरादाबाद जिले को 23 से 25 मार्च के बीच लॉकडाउन कर दिया गया है। उन्होने बताया कि जिन जिलों में कोरोना वायरस से पीड़ित लोग मिले हैं वहां विशेष निगरानी के निर्देश दिये गए हैं। इन जिलों में किसी प्रकार की गतिविधियां नहीं होंगी।

  • बाजार और दुकाने बंद रहेंगी।
  • जनता से अपील की है कि वे इस दौरान अपने घरों में रहें
  • इस तरह के कड़े फैसलों के लिये खुद को तैयार रखें।
  • योगी ने कहा कि प्रदेश में जरूरी चीजों की कमी नहीं होने दी जायेगी
  •  कालाबाजारी करने वालों के खिलाफ सरकार कडी कार्रवाई करेगी।

जनता कर्फ्यू के दौरान पुलिस के जवान गश्त तेज रखेंगे

इस बीच योगी ने कोरोना वायरस के दुष्प्रभाव के बीच अपनी सेहत की परवाह न करते हुए आम जनमानस की सेवा में संलग्न चिकित्सा कर्मियों, सफाई कर्मियों, पुलिस कर्मियों आदि के प्रति आभार ज्ञापन स्वरूप में घंटनाद किया। उन्होने गोरखनाथ मंदिर स्थित अपने आवास की बालकनी से घंटा बजाकर कोरोना से बचाव में लगे कर्मियों की हौसला आफजाई की। इससे पहले अधिकृत सूत्रों ने बताया था कि कोरोना के संक्रमण से बचाव के तहत उच्च अधिकारियों की बैठक में राज्य के सात जिलों में जहां कोरोना पाजीटिव मरीज पाये गये हैं, 31 मार्च तक इमरेजेंसी सेवाओं को छोड़ कर अन्य सभी सेवायें बाधित करने का फैसला लिया है। बाद में श्री योगी ने इसमे परिवर्तन करते हुये लाकडाउन की सीमा सात जिलो से बढ़ाकर 15 कर दी और समयावधि 31 मार्च से घटाकर 25 मार्च कर दी। इस दौरान खाद्य पदार्थ समेत अन्य जरूरी चीजें उपलब्ध रहेंगी।

लखनऊ में मेट्रो रेल संचालन भी नहीं होगा।

देश भर में रेल सेवायें पहले से ही 31 मार्च तक बाधित कर दी गयी है। यूपी रोडवेज की अंर्तराज्यीय सेवायें भी इस अवधि में उपलब्ध नहीं होंगी। सूत्रों ने बताया कि प्रधानमंत्री के प्रमुख सचिव सभी राज्यों के मुख्य सचिवों के साथ हुयी बैठक के बाद यह फैसला लिया गया कि प्रभावित जिलों में गैर जरूरी यातायात साधनों पर प्रतिबंध लगाने की जरूरत है ताकि कोरोना के संक्रमण के विस्तार को रोका जा सके। गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में कोरोना से संक्रमित 28 मरीज पाये गये है जिनमें आगरा और लखनऊ में आठ-आठ , नोएडा में सात, गाजियाबाद में दो मरीज शामिल है। इसके अलावा लखीमपुर खीरी,मुरादाबाद और वाराणसी में एक एक संदिग्ध पर कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। हालांकि इन मरीजो में 11 पूरी तरह स्वस्थ हो चुके है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।