Breaking News

आज से 31वें दिन चुनाव, लेकिन नहीं बना चुनावी माहौल

Lok Sabha, Elections, 2019

-बीजेपी को छोड़ किसी बड़ी पार्टी ने नहीं किये उम्मीदवार घोषित

  • -गुरुग्राम से बीजेपी उम्मीदवार की भी बाहर के चुनावों में लगी है ड्यूटी

सच कहूँ/संजय मेहरा
गुरुग्राम। आज से ठीक 31वें दिन 12 मई को देश की राजधानी दिल्ली, हरियाणा समेत सात राज्यों में मतदान होगा। मतदान में मात्र एक माह एक दिन (31) बाकी है, लेकिन चुनाव का जो माहौल बनना चाहिए, वह अभी नहीं बन पाया है। राजनीतिक दलों में बाहरी तौर पर कुछ खास जोश नजर नहीं आ रहा। बीजेपी ने तो फिर भी अपने आठ उम्मीदवार घोषित कर दिये, लेकिन कांग्रेस व अन्य दलों ने अभी अपने पत्ते नहीं खोले हैं।

कांग्रेस ऐेसे उम्मीदवारों को मंथन कर रही है, जो कि बीजेपी के उम्मीदवारों को पटखनी दे सकें

स्वाभाविक है कि कांग्रेस अब ऐेसे उम्मीदवारों को मैदान में उतारने को मंथन कर रही है, जो कि बीजेपी के उम्मीदवारों को पटखनी दे सकें। हरियाणा में आगामी 12 मई को लोकसभा के चुनाव होने हैं। छठे चरण में होने वाले इन चुनावों की घोषणा से पूर्व तो राजनीतिक दलों ने खूब हलचल कर रखी थी, लेकिन चुनाव की घोषणा होने के बाद सब सुस्त से हो गये हैं। हां, बीजेपी ने आठ उम्मीदवार घोषित किये हैं और कांग्रेस ने अपनी बस यात्रा निकाली है। बात करें गुरुग्राम लोकसभा क्षेत्र की तो यहां से बीजेपी ने सबसे पहले उम्मीदवार की घोषणा राव इंद्रजीत स्ािंह के रूप में की है। हालांकि बीजेपी की ओर पूर्व में भी उन्हें ही टिकट मिलना तय माना जा रहा था।

क्योंकि यहां से बीजेपी का कोई ऐसा नेता नहीं था, जिसे लोकसभा चुनाव लड़ाया जा सके। बेशक इंद्रजीत सिंह को टिकट मिल गयी हो, लेकिन वे अपने संसदीय क्षेत्र में अभी चुनावी मैदान में सक्रियता के साथ नहीं उतर पाये हैं। बताया जा रहा है कि पार्टी की ओर से यूपी में चुनाव प्रचार के लिए उन्हें भेजा गया है। वे वहां पर व्यस्त हैं, इसलिए अपने संसदीय क्षेत्र में अभी प्रचार करने नहीं पहुंचे हैं। जब तक वे खुद प्रचार की कमान नहीं संभाल रहे, तब तक उनके पक्ष का कोई और नेता भी प्रचार में नहीं आ रहा।

अपनी टिकट पक्की मान रहे हैं कैप्टन

कांग्रेस की टिकट पर चुनाव लड़ने को दो बड़े नेता कैप्टन अजय यादव और राव दान सिंह दावा ठोंक रहे हैं। कैप्टन तो बस यात्रा के दौरान यह भी कह चुके हैं कि उनकी तो टिकट लगभग पक्की है। लेकिन पार्टी की ओर से इस पर अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया गया है कि यहां से कौन लोकसभा चुनाव लड़ेगा। कैप्टन अजय यादव का पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह के साथ 36 का आंकड़ा है, वहीं राव दान सिंह के खास हैं। ऐसे में कैप्टन के लिए टिकट हासिल करना आसान नहीं है। कैप्टन अजय यादव रेवाड़ी से 6 बार लगातार विधायक रह चुके हैं। उनकी जीत के इस तिलिस्म को बीजेपी के रणधीर कापड़ीवास ने तोड़ा।

इनेलो जाकिर हुसैन पर खेलेगा दांव

इनेलो, जजपा, बसपा भी अपना यहां से उम्मीदवार उतारेगी। इस पर इन पार्टियों में मंथन चल रहा है। इन पार्टियों में से इनेलो द्वारा विधायक जाकिर हुसैन को मैदान में उतारे जाने की संभावना है। क्योंकि उनकी मेवात क्षेत्र में पकड़ मजबूत है। वे बसपा और इनेलो से पूर्व में चुनाव लड़कर दूसरे नंबर पर रह चुके हैं। इसलिए इनेलो उन पर ही दांव लगायेगा। बाकी जजपा और बसपा भी अपने उम्मीदवार यहां से तलाश रही है। उम्मीदवारों के नाम तय नहीं होने के चलते ही लोकसभा चुनाव की सरगर्मियां तेज नहीं हो पा रही हैं। इसलिए यहां की राजनीति अभी सुस्त पड़ी है। सोशलिस्ट यूनिटी सेंटर आॅफ इंडिया (एसयूसीआई) ने गुरुग्राम लोकसभा सीट से कामरेड श्रवण कुमार को उम्मीदवार घोषित किया है।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019