लॉकडाउन कोविड-19 का हल नहीं

0
Congress

राहुल गांधी ने कोरोना को लेकर सरकार पर साधा निशाना, कहा-

(Congress)

  • राज्यों को अधिक अधिकार दे केंद्र सरकार

  • लॉकडाउन के बाद बड़ी चुनौती बनकर उभरेगा कोरोना

  •  कोरोना को हराने के लिए टेस्टिंग सबसे बड़ा हथियार

नई दिल्ली (एजेंसी)। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा है कि लॉकडाउन से कोरोना का फैलाव रोका जा सकता है लेकिन इसको हराने के लिए चिकित्सा सुविधा बढ़ाने और टेस्टिंग की व्यापक व्यवस्था करने की आवश्यकता है। गांधी ने गुरुवार को यहां विशेष संवाददाता सम्मेलन में कहा कि लॉक डाउन के दौरान सरकार को इस महामारी से निपटने की तैयारी करनी है। (Congress) लॉकडाउन कोरोना वायरस को फैलने से रोकेगा लेकिन कोरोना को हराने के लिए टेस्टिंग सबसे बड़ा हथियार है और इसको व्यापक रूप से बढ़ाने तथा इस दिशा में रणनीतिक तरीके से काम करने की जरूरत है।

सरकार ने इसे रोकने के लिए ठोस कदम नहीं उठाए

उन्होंने कहा कि लॉकडाउन की अवधि में इस रोग को रोकने के ठोस और पर्याप्त प्रयास नहीं किए गए तो इसे हटाने के बाद फिर लोगो को घरों में रहने को मजबूर करना पड़ेगा। इसी तरह से इसके आर्थिक नुकसान को रोकने के लिए भी रणनीतिक तैयारी की जरूरत है। गांधी ने कहा कि मेरी बात को आलोचना नहीं बल्कि रचनात्मक तरीके से लिया जाना चाहिए और सबको मिलकर कोरोना को हराने के लिए काम करना है।

जाति-धर्म को भूलकर वायरस से लड़ना होगा

राहुल गांधी ने कहा कि देशभर में लॉकडाउन को रणनीति के तहत खोलना होगा। उन्होंने कहा कि अगर बीमारी से लड़ना हो तो हिन्दुस्तान को जाति-धर्म को भूलकर एक होना पड़ेगा। जहां हिन्दुस्तान ने बीच में लड़ाई की, बात वहीं खत्म हो जाएगी। इस बीमारी के लिए बड़े पैमाने पर जांच होनी चाहिए।

न्याय योजना का नाम बदलकर ही पैसे दे दीजिए

  • राहुल गांधी ने कहा कि कोरोना से लड़ने के लिए देश को दो मोर्चों पर ज्यादा काम करने की जरूरत है ।
  •  एक हेल्थ और दूसरा अर्थव्यवस्था।
  • फूड का सेफ्टी नेट तैयार करना होगा।
  • जिनके पास राशन कार्ड नहीं हैं, उन्हें भी मुफ्त राशन दीजिए।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।