एमएसजी टिप्स : व्यायाम से रखें आंखों को स्वच्छ 

0
Keep Eyes Clean With Exercise - MSG Tips - Sach Kahoon
अगर आंख में कुछ गिर जाए तो उसे सख्त कपड़े से साफ नहीं करना चाहिए, बल्कि अंजुलि में साफ पानी भरें और फिर अपनी आंख को उसमें डुबोकर क्लॉकवाइज़ व एंटी-क्लॉकवाइज़ इधर-उधर घुमाएं, कुछ ही पलों में आंख में गिरा कण निकल जाएगा।

आंख में कुछ गिरने पर व्यायाम

नेत्र व्यायाम करने से नेत्र उत्तकों का लचीलापन बना रहता है। नेत्रों में रक्त परिसंचरण अच्छा होता है, जिसका सीधा असर हमारी आंखों पर पड़ता है।

आंखों के लिए कुछ विशेष व्यायाम निम्नलिखित हैं

  • एक पेंसिल लें, उसे एक हाथ की दूरी पर पकड़ें। अब उसकी नोक पर ध्यान केंद्रित करें और पेंसिल को धीरे-धीरे अपनी नाक के पास लाएं और फिर दूर ले जाएं। ध्यान रहे, पूरा समय पेंसिल की नोक से नजर ना हटाएं। ऐसा दिन में 10 बार करने से बहुत लाभ होगा।
  • आंखों को पांच-पांच सैकिंड क्लॉकवाइस और एंटीक्लॉकवाइस घुमाएं। ऐसा 5-6 बार करना चाहिए।
  •  20 से 30 बार तेजी से पलकों को झपकाने से भी बहुत फायदा मिलता है।
  • आंखों पर जोर डाले बिना दूर की किसी वस्तु पर ध्यान लगाना चाहिए। सबसे बढ़िया विधि है- चाँद पर ध्यान केन्द्रित करना। संध्या या सुबह के समय जल्दी उठकर दूर की हरियाली पर नजर टिका सकते हैं। ऐसा 5 मिनट हर रोज करने से आपको फायदा मिलेगा। इस प्रकार अच्छे परिणामों के लिए यह नेत्र व्यायाम नियमित तौर पर करते रहना चाहिए।

सनिंग और पामिंग

  • सनिंग और पामिंग भी नेत्रों के लैंस के लिए बहुत लाभदायक होता है। सनिंग से जहां हमें सूर्य उपचार क्षमता का फायदा मिलता है, वहीं आंखों को पामिंग से भी आराम मिलता है।
  • सनिंग के लिए आंखों को बंद करके गहरी सांस लेते हुए सूर्योदय के समय सूर्य की तरफ 2 मिनट के लिए देखें। ध्यान रहे, ऐसा करते समय आपकी आंखें बंद रहें।
  • पामिंग के लिए, धीरे से दोनों हथेलियों को आपस में रगड़ें और धीरे-धीरे दोनों हाथों से दोनों आंखों को ढक लें। ऐसा दिन में कई बार करें व साथ में किसी अच्छे दृश्य को दिमाग मे रखने से भी अच्छा परिणाम मिलता है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।