राष्ट्रपति बनते ही जो बाइडेन ने लिए कई अहम फैसले

0
212
joe biden

अब अमेरिका में मास्क पहना अनिवार्य

वाशिंगटन (एजेंसी)। जो बिडेन ने आज अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति बन गए हैं। राष्ट्रपति  बनते ही बाइडेन ने कई अहम फैसले लिए। सबसे पहले उन्होंने अमेरिका में मास्क पहना अनिवार्य किया। राष्ट्रपति बनने के बाद मीडिया से रूबरू होते हुए उन्होंने कहा कि मेरे पास समय बहुत कम है और काम ज्यादा करना है। मैं अगले सात दिन में कई एग्जीक्यूटिव आॅर्डर्स पर साइन करूंगा।

जानें अहम फैसले-

1. जो बाइडने ने कोरोना वायरस को लेकर हस्ताक्षर किए। इसके तहत मॉस्क को फेडरल प्रॉपर्टी घोषित किया गया है, यानि हर लोगों को महामारी के दौरान मॉस्क पहना जरूरी होगा। सोशल डिस्टेसिंग रखना जरूरी होगा।

2. अमेरिकी के नए राष्ट्रपति ने इसके बाद मुस्लिम देशों-इराक, ईरान, लीबिया, सोमालिया, सूडान, सीरिया और यमन पर लगा ट्रैवल बैन हटा दिया है। गौरतलब हैं कि ट्रम्प ने 2017 में यह बैन अपने कार्यकाल के पहले हफ्ते में कर दिया था।

3. अमेरिका के राष्ट्रपति जो बिडेन ने बुधवार को पेरिस जलवायु परिवर्तन समझौता तथा विश्व स्वास्थ्य संगठन में अमेरिका के पुन: शामिल होने के के कार्यकारी आदेश पर हस्ताक्षर कर दिया।

4. जो बाइडने ने इसके बाद विश्व स्वास्थ्य संगठन को लेकर अहम फैसला लिया। इसके तहत अब अमेरिका फिर से विश्व स्वास्थ्य संगठन का सदस्य होगा।

5. बाइडेन ने मैक्सिको बॉर्डर की फंडिंग पर रोक लगा दी है।

6. अमेरिका ने कनाडा के साथ विवादित कीस्टोन 6 पाइपलाइन समझौते पर फिलहाल रोक लगा दी है। कनाडाई प्रधानमंत्री ने बाइडेन के फैसले पर निराशा जताई है।

तीन सीनेटरों के शपथ के बाद सीनेट पर डेमोक्रेट्स का कब्जा

सुश्री कमला हैरिस ने अमेरिका की उपराष्ट्रपति पद की शपथ लेने के बाद डेमोक्रेटिक पार्टी के तीन सीनेटरों को शपथ दिलायी और इस तरह से 2014 के बाद पहली बार सीनेट पर डेमोक्रेट्स का नियंत्रण हो गया। इस महीने के शुरू में जॉर्जिया से रेवरेंड राफेल वारनॉक और जॉन ओसॉफ को सीनेट के लिए निर्वाचित हुए थे। वारनॉक अटलांटा में एबेनेजर बैपटिस्ट चर्च के वरिष्ठ पादरी हैं औरओसॉफ बुधवार को सुश्री कमला हैरिस के उत्तराधिकारी के तौर पर नियुक्त हुए।

वहीं कैलिफोर्निया की पूर्व सेक्रिटरी एलेक्स पाडिला को डेमोक्रेटिक गवर्नर गेविन न्यूसॉम ने सीनेट के लिए नियुक्त किया। सीएनएन की रिपोर्ट के अनुसार वारनॉक तथा ओसॉफ क्रमश पहले अश्वेत तथा पहले यहूदी है, जो जॉर्जिया का प्रतिनिधित्व करेंगे, जबकि सुश्री पाडिला कैलिफोर्निया का प्रतिनिधित्व करने वाली पहली लैटिक सीनेटर हैं। तैंतीस वर्षीय ओसॉफ मौजूदा राष्ट्रपति जो बिडेन के बाद सीनेट के लिए निर्वाचित होने वाले सबसे युवा सीनेटर हैं। बाइडेन 1973 में 30 वर्ष की उम्र में सीनेटर बने थे।

फिलीस्तीनी नेता ने बिडेन के साथ सहयोग की जतायी उम्मीद

फिलीस्तीनी नेता महमूद अब्बास ने जो बिडेन को अमेरिका के राष्ट्रपति का पदभार संभालने पर बधाई दी और कहा है कि क्षेत्र में शांति कायम रखने के लिए वह साथ मिलकर काम करने की उम्मीद करते हैं। डब्ल्यूएएफए न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के मुताबिक अब्बास ने उपराष्ट्रपति कमला हैरिस को भी बधाई दी और गंभीर समस्याओं के समाधान की दिशा में उनकी सफलता की कामना की। फिलीस्तीनी नेता ने कहा, ‘उम्मीद है कि पश्चिम एशिया क्षेत्र ही नहीं बल्कि विश्व में शांति और स्थिरता के लिए हम साथ मिलकर काम करेंगे।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।