JNU violence : जामिया में एनएचआरसी की टीम ने छात्रों से की पूछताछ

0
Jamia

छात्रों ने आयोग की टीम के समक्ष कहा कि पुलिस ने लाइब्रेरी में पढ़ने वाले छात्र छात्राओं को बेरमहमी से पीटा (JNU violence)

नई दिल्ली (सच कहूँ न्यूज)। जामिया मिल्लिया इस्लामिया में पिछले दिनों छात्रों पर हुई बर्बर कार्रवाई को देखते हुए राष्ट्रीय मानवाधिकार (एनएचआरसी) की टीम ने मंगलवार को दूसरी बार विश्वविद्यालय का दौरा किया और वहां अधिकारियोें और विद्यार्थियों के साथ बातचीत की। आधिकारिक सूत्रों ने बताया पुलिस उपाधीक्षक स्तर के एक अधिकारी के नेतृत्व में आयोग की टीम विश्वविद्यालय आयी और उन्होंने करीब 35 विद्यार्थियों से पूछताछ की और उनके बयान लिखित तथा मौखिक तौर पर दर्ज किये। आयोग के सदस्यों ने विश्वविद्यालय के शिक्षकों और अधिकारियोें से भी पूछताछ की और 15 दिसंबर को हुई पुलिस कार्रवाई के बारे में जानकारी हासिल की।

आयोग की टीम के समक्ष छात्रों ने 15 दिसंबर की रात की घटना के बारे में विस्तार विरणा रखा। छात्रों ने आयोग की टीम के समक्ष कहा कि पुलिस ने लाइब्रेरी में पढ़ने वाले छात्र छात्राओं को बेरमहमी से पीटा। इससे पहले 20 दिसंबर को वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक मंजिल सैनी के नेतृत्व में मानवाधिकार आयोग की सात सदस्यीय टीम ने विश्वविद्यालय का दौरा किया था।

क्या है मामला:

गौरतलब है कि नागरिकता कानून के विरोध में प्रदर्शन के बाद जामिया परिसर में घुसकर पुलिस ने लाइब्रेरी में तोड़फोड़ की थी (JNU violence) तथा विद्यार्थियों के साथ मारपीट की थी। पुलिस की इस बर्बर कार्रवाई और नागरिकता (संशोधन) कानून के खिलाफ पिछले एक महीने से अधिक समय से विश्वविद्यालय परिसर के बाहर निरंतर आदोलन जारी है।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।