राज्य

जेबीटी नियुक्ति विवाद

JBT Appointment Controversy

मुख्यमंत्री से मिलेगा पात्र अध्यापक संघ | JBT Appointment Controversy

चंडीगढ़ (एजेंसी)। वर्ष 2012 में विज्ञाप्ति जेबीटी (JBT Appointment Controversy)की भर्ती में 12731 चयनित अध्यापकों में से बचे लगभग 900 नवचयनित अध्यापकों की नियुक्ति को लेकर पात्र अध्यापक संघ के प्रतिनिधि अब सीधे मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर से मिलेंगे।

संघ की एक बैठक में आज यह निर्णय लिया गया। संघ के 2012-13 के प्रधान संजय तालू ने बताया कि बार-बार मुख्यमंत्री, शिक्षा मंत्री एवं मुख्यमंत्री के ओएसडी भूपेश्वर दयाल वत्स से पिछले 1 वर्ष से आश्वासन तो मिलता है परन्तु उस पर कोई अमल नहीं हो रहा है। आज संघ की बैठक में फैसला लिया गया कि इस बारे में तुरंत सीधे मुख्यमंत्री से मिलकर उनके वादे को याद दिलवाया जाऐगा।
संघ के अनुसार मुख्यमंत्री ने लगभग 8 माह पहले वादा किया था।

परंतु आज तक वह पूरा नहीं हो सका। जबकि शिष्टमण्डल लगातार उनके द्वारा दिए गए आदेशों को लेकर उच्च अधिकारियों एवं मुख्यमंत्री के ओएसडी भूपेश्वर दयाल वत्स से मिल रहे हैं। तालू ने बताया कि पिछले दिनों इन नियुक्ति से वंचित अध्यापकों ने 18 अक्टूबर से धरना व अनशन शुरू किया गया था।
मुख्यमंत्री के निजी सचिव दीपक मंगला ने 23 अक्टूबर को मुख्यमंत्री के इस आश्वासन पर अनशन समाप्त करवाया था कि 4 नवंबर तक आपकी नियुक्ति करवाकर खुशखबरी दी जाएगी परंतु आजतक इस पर कोई कार्यवाही नहीं हुई।

तालू ने बताया कि आज दीपावली के पर भी उन्हे केवल मात्र आश्वासन देकर भेज दिया गया। तालू ने बताया कि कोर्ट के आदेश पर मुख्यमंत्री की तरफ से 12731 नवचयनित जे.बी.टी को नियुक्ति देने के आदेश हुए थे। जिनमें से ज्वाईनिंग से वंचित शेष बचे 900 उम्मीद्वार 19 महीने बाद भी दर-दर की ठोकरे खाने को मजबूर हैं।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top