Friends Optical and Eye Care
Breaking News

Jammu Kashmir : 70 दिन बाद पोस्टपेड मोबाइल सेवाएं बहाल, गूंजेगा.. हैलो

मोबाइल इंटरनेट के लिए अभी कुछ और दिनों का इंतजार करना पड़ेगा। साथ ही सरकार प्रीपेड सेवा भी बहाल करने पर विचार कर रही है।

आर्टिकल 370 हटाने के बाद से मोबाइल फोन सेवाएं को बंद कर दिया गया था । Jammu & Kashmir

श्रीनगर (एजेंसी) Edited By Vijay  Sharma कश्मीर घाटी (Jammu & Kashmir) में बीएसएनएल नेटवर्क की पोस्ट पेड मोबाइल सेवा सोमवार को बहाल हो गई। करीब 70 दिनों पर घाटी में आज से मोबाइल फोन की घंटियां बजनी शुरू हो गईं। आज दोपहर को कश्मीर में 40 लाख से ज्यादा मोबाइल फोन एक्टिव हो गए। दो दिन पहले फैसला लिया गया था कि घाटी से पोस्टपेड सेवाओं पर लगी पाबंदी हटा ली जाएगी। फिलहाल पोस्टपेड मोबाइल पर कॉलिंग की सुविधा शुरू करने का फैसला लिया गया है।

मोबाइल इंटरनेट के लिए अभी कुछ और दिनों का इंतजार करना पड़ेगा। साथ ही सरकार प्रीपेड सेवा भी बहाल करने पर विचार कर रही है। उल्लेखनीय है कि जम्मू एवं कश्मीर से आर्टिकल 370 हटाने के बाद से 5 अगस्त को एहतियात के तौर पर मोबाइल फोन सेवाएं और इंटरनेट सुविधा को बंद कर दिया गया था। हालांकि जम्मू और लद्दाख में मोबाइल सेवाएं बहाल कर दी गई थीं लेकिन कश्मीर में बैन लगा हुआ था।

आने वाले 31 अक्तूबर को जम्मू-कश्मीर और लद्दाख दो अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश बन जाएंगे। घाटी में 17 अगस्त तक लैंडलाइन की आंशिक सेवा बहाल की गई थीं और 4 सितंबर तक करीब 50,000 लैंडलाइन को शुरू करने की घोषणा की गई थी। जम्मू में मोबाइल इंटरनेट सेवा अगस्त मध्य से बहाल हो गई थी। मोबाइल सेवा इससे भी पहले चालू हो चुकी थी। हालांकि दुरुपयोग होने के बाद 18 अगस्त को मोबाइल पर इंटरनेट सुविधा को फिर से बंद कर दिया गया था।

आम आदमी को मिलेगी राहत

  • मोबाइल फोन की बहाली से छात्रों, व्यवसायियों और आम आदमी को राहत मिलेगी।
  • 70 दिनों बाद आज से जम्मू एवं कश्मीर में मोबाइल फोन की घंटियां बजनी शुरू हो गई हैं।
  • सोमवार दोपहर से जम्मू एवं कश्मीर में करीब 40 लाख से ज्यादा पोस्टपेड सेवा वाले फोन एक्टिव हो गए हैं।
  • इस दौरान हालांकि जम्मू और लद्दाख क्षेत्र में मोबाइल फोन सेवाएं उपलब्ध थीं
  • लेकिन कश्मीर घाटी में पांच अगस्त से इन पर प्रतिबंध बना हुआ था।
  • मोबाइल फोन की बहाली की मांग हो रही थी

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top