खेल

‘फैबुलस फोर’ में होगा दिलचस्प ‘मुकाबला’

Match, Fabulous Four, Open Tennis Tournament, Grand Slam

विम्बलडन ओपन टेनिस टूर्नामेंट: सोमवार से शुरु होगा वर्ष का तीसरा ग्रैंड स्लेम

लंदन (एजेंसी)। आधुनिक टेनिस के ‘फैबुलस फोर’ कहे जाने वाले रोजर फेडरर, राफेल नडाल, नोवाक जोकोविच और एंडी मुर्रे के बीच सोमवार से शुरु हो रहे वर्ष के तीसरे ग्रैंड स्लेम विम्बलडन के ग्रास कोर्ट पर खिताब के लिए दिलचस्प मुकाबला होगा। विम्बलडन के पिछले 14 संस्करणों में स्विट्ज़रलैंड के फेडरर सात बार, स्पेन के नडाल दो बार, ब्रिटेन के मुर्रे दो बार और सर्बिया के जोकोविच तीन बार चैंपियन रह चुके हैं।

अन्य कोई खिलाड़ी इनके दबदबे में सेंध नहीं लगा पाया है। 2017 में पहले दो ग्रैंड स्लेम में फेडरर ने आॅस्ट्रेलियन ओपन खिताब पर कब्ज़ा किया जबकि नडाल ने फ्रेंच ओपन का खिताब जीता। सात बार के चैंपियन फेडरर ने टूर्नामेंट की पूर्वसंध्या पर चेतावनी दी है कि एक बार फिर विम्बलडन में इन चारों का ही दबदबा रहेगा। फेडरर ने विम्बलडन के लिए खुद को फ्रेंच ओपन के क्ले कोर्ट से दूर रखा था। फेडरर का मानना है कि टेनिस की युवा ब्रिगेड में अभी इस फैबुलस फोर को चुनौती देने का दमखम नहीं है। गत चैंपियन मुर्रे तथा नडाल और फेडरर तथा जोकोविच के बीच सेमीफाइनल में भिड़ंत हो सकती है।

 चारों दिग्गज एक बार फिर एक-दूसरे को चुनौती देने के लिए तैयार

फेडरर इस बार विम्बलडन में अपने आठवें खिताब के लिए उतरेंगे जबकि दूसरी सीड जोकोविच अपने चौथे खिताब के लक्ष्य के साथ उतरेंगे। विश्व के नंबर एक खिलाड़ी मुर्रे अपने अभियान की शुरुआत क्वालीफायर से करेंगे। जोकोविच के सामने स्लोवाकिया के मार्टिन क्लिजान की चुनौती होगी। सर्बियाई खिलाड़ी तीसरे राउंड में जुआन मार्टिन डेल पोत्रो से भी भिड़ सकते हैं। टूर्नामेंट में तीसरी वरीयता प्राप्त फेडरर के सामने पहले दौर में यूक्रेन के एलेक्सांद्र डोल्गोपोलोव होंगे जबकि चौथी वरीय नडाल के सामने आस्ट्रेलिया के जॉन मिलिमैन रहेंगे।

कूल्हे की चोट के कारण गत सप्ताह क्वींस क्लब में पहले ही दौर में बाहर हो गए 30 वर्षीय मुर्रे विम्बलडन में अच्छी शुरुआत के लक्ष्य के साथ उतरेंगे। पहले सप्ताह में जोकोविच और डेल पोत्रो के बीच मैच भी अह्म होगा। दोनों के बीच 2013 सेमीफाइनल में पांच सेटों तक मैच चला था जबकि पोत्रो ने सर्बियाई खिलाड़ी को ओलंपिक में गत वर्ष मात दी थी। नडाल की जोरदार सर्विस करने वाले जाइल्स मुलर से अंतिम-16 में और अंतिम-आठ में जापान के केई निशिकोरी या क्रोएशिया के मारिन सिलिच से भिड़ंत संभव है।

वहीं यह संभावना है कि फाइनल में नडाल और फेडरर के बीच चौथी बार भी भिड़ंत हो सकती है। इससे पहले ये दोनों खिलाड़ी 2006, 2007 और 2008 में एक दूसरे का सामना कर चुके हैं। स्पेनिश खिलाड़ी ने नौ वर्ष पहले पांच सेटों में पांच घटों के बाद मैराथन फाइनल जीता था जो विम्बलडन इतिहास का सबसे चुनौतीपूर्ण फाइनल माना गया था।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top