गुरुग्राम में खुलेगा इंस्टीट्यूट ऑफ़ बिजनेस मैनेजमेंट एण्ड एग्रीप्रीन्योरशिप

0
14
Institute of Business Management and Agriprenurship will open in Gurugram

हरियाणा के युवाओं को कृषि क्षेत्र में व्यापार व प्रबंधन का मिलेगा प्रशिक्षण (Gurugram)

सच कहूँ/संजय मेहरा गुरुग्राम। हरियाणा के युवाओं को कृषि क्षेत्र में व्यापार और प्रबंधन में प्रशिक्षण देने के लिए गुरुग्राम में ‘इस्टीट्यूट ऑफ़ बिजनेस मैनेजमेंट एण्ड एग्रीप्रीन्योरशिप’ खोला जाएगा। इस संस्थान के लिए (Gurugram) गुरूग्राम जिला के गांव दौलताबाद में जगह चिन्ह्ति की गई है। कृषि से जुड़े उद्योगों और व्यापार के प्रबंधन में युवाओं को प्रशिक्षित करने और उन्हें कुशल बनाने के लिए यह संस्थान खोला जा रहा है, जो गांव दौलताबाद के निकट 6 एकड़ भूमि पर विकसित होगा। यह भूमि चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय हिसार ने लीज पर ली है। बादशाहपुर के विधायक एवं हरियाणा एग्रो इस्ट्रीज कॉरपोरेशन के चेयरमैन राकेश दौलताबाद ने बताया कि इस संस्थान की आधारशिला मुख्यमंत्री मनोहर लाल रखेंगे।

किसानों की आय बढ़ाने को उद्योगों से जोड़ेंगे

उन्होंने कहा कि किसानों की आय बढ़ाने के लिए उन्हें उद्योगों के साथ जोड़ा जाएगा। इसके लिए इस प्रकार के संस्थान खोलने जरूरी हैं ताकि युवा वर्ग को आज के समय की जरूरत के अनुसार कृषि से जुड़े उद्योग लगाने के लिए प्रेरित किया जा सके। आज के वैश्विक परिदृश्य को देखते हुए युवाओं को पंरपरागत खेती में बदलाव करते हुए कृषि के क्षेत्र में भी नए प्रयोग करने की जरूरत है।

युवा नई सोच के साथ नई किस्म की खेती करें और कृषि उत्पादों से जुड़े उद्योग धंधे खुद लगाएं। फिर इन उत्पादों का देश-विदेश में निर्यात करें। गुरुग्राम में इस संस्थान को स्थापित करने के पीछे एक कारण यह भी है कि गुरूग्राम जिला दिल्ली एनसीआर में स्थित है और अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डा नजदीक होने की वजह से देश-विदेश के कृषि वैज्ञानिकों तथा विशेषज्ञों को संस्थान में विद्याथिज्यों से रूबरू होने के लिए आसानी से बुलाया जा सकता है।

5 विभागों के अधीन काम करेगा संस्थान

चौधरी चरण सिंह हरियाणा कृषि विश्वविद्यालय में बिजनेस मैनेजमेंट फैकेल्टी की विभाग अध्यक्ष डॉ. सुनीता महला के मुताबिक गुरुग्राम का इस्टीट्यूट ऑफ़ बिजनेस मैनेजमेंट एण्ड एग्रीप्रैन्योरशिप मुख्य रूप से विश्वविद्यालय के 5 विभागों के अधीन काम करेगा। इनमे एग्री-बिजनेस, बिजनेस मैनेजमेंट, रूरल मैनेजमेंट, एंटरपै्रन्योरशिप मैनेजमेंट तथा कॉ-ऑप्रेटिव मैनेजमेंट विभाग शामिल हैं। प्रत्येक विभाग के हिसाब से संस्थान में 20-20 सीटें होंगी।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।