खेल

INDvNZ: ‘करो या मरो’ के मैच में उतरेगा भारत

India, Newzealand, ODI, Cricket, Sports

पुणे (एजेंसी)। न्यूजीलैंड के खिलाफ वनडे सीरीज़ का ओपनिंग मैच गंवाने के बाद अब भारतीय क्रिकेट टीम के लिए बुधवार को यहां दूसरे मैच में करो या मरो की स्थिति पैदा हो गई है और मुकाबले में बने रहने के लिए उसे हर हाल में जीत दर्ज करनी होगी। मेहमान न्यूजीलैंड टीम ने भारत को मुंबई में हुए पहले मैच में छह विकेट से हराया था और वह तीन मैचों की सीरीज़ में 1-0 से आगे हो गई है।

यदि कीवी टीम यहां महाराष्ट्र क्रिकेट एसोसिएशन स्टेडियम में दूसरा मैच भी जीत लेती है तो भारतीय टीम 0-2 से सीरीज़ गंवा बैठेगी। भारत ने न्यूजीलैंड के साथ सीरीज़ से पहले आस्ट्रेलिया के खिलाफ घरेलू मैदान पर 4-1 से पांच मैचों की वनडे सीरीज़ जीती थी जो उसकी जून 2016 के बाद से लगातार छठी वनडे सीरीज़ जीत है।

यदि मेजबान टीम पुणे वनडे हार जाती है तो उसका अपराजेय क्रम भी टूट जाएगा। टीम इंडिया को पिछले मैच में कप्तान विराट कोहली की बेहतरीन शतकीय पारी के बावजूद हार झेलनी पड़ी थी और मैच के बाद कप्तान ने माना था कि बल्लेबाजों को बोर्ड पर और रन जोड़ने की जरुरत थी। पिछले मैच में रोहित शर्मा और शिखर धवन की ओपनिंग जोड़ी टीम को अच्छी शुरुआत दिलाने में कामयाब नहीं रही जबकि विराट के 121 रन को छोड़कर बाकी कोई बल्लेबाज़ बड़ा स्कोर नहीं बना सका।

वहीं गेंदबाज़ों खासकर स्पिनरों को भी कीवी बल्लेबाज़ों ने काफी नियंत्रित किया। न्यूजीलैंड के लिए टॉम लाथम और रॉस टेलर ने 200 रन की जबरदस्त साझेदारी की और अपनी टीम को आसान जीत दिला दी।

आस्ट्रेलिया के खिलाफ सीरीज़ में सबसे सफल रहे स्पिन जोड़ीदार चाइनामैन गेंदबाज़ कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल 64 और 51 रन देकर काफी महंगे साबित हुए जबकि कीवी बल्लेबाजों ने इन स्पिनरों को बेहतरीन ढंग से समझा और बिना आक्रामकता दिखाए संयम से इनपर अपने शॉट््स लगाए और उसका नतीजा रहा कि दोनों गेंदबाज़ मिलकर केवल एक ही विकेट निकाल पाए।

दूसरी ओर भारतीय बल्लेबाजों के प्रदर्शन से पिछले मैच में निराश रहे विराट के संकेत यदि टीम समझ गयी होगी तो निश्चित ही उसके बल्लेबाज़ बड़ा स्कोर बनाने का प्रयास करेंगे। पिछले मैच में विराट ने अपने 200वें वनडे में 31वां शतक जड़ा लेकिन उनके अलावा अन्य कोई बल्लेबाज़ अर्धशतक भी नहीं बना सका था।

टीम इंडिया के खिलाफ मुंबई में तेज़ गेंदबाज ट्रेंट बोल्ट 35 रन पर चार विकेट लेकर सबसे सफल रहे थे जबकि अन्य तेज़ गेंदबाज टिम साउदी को तीन विकेट मिले। कीवी टीम के दो तेज़ गेंदबाजों ने जहां सात विकेट निकाले तो वहीं भारत की आक्रामक तिकड़ी जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार और पांड्या मिलकर 158 रन लुटाकर तीन विकेट निकाल पाए थे। ऐसे में भारत को करो या मरो के मुकाबले में आॅलराउंड प्रदर्शन करना होगा।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top