सीआईडी मामले में वही होगा जो किताब में लिखा : Anil Vij

0
Anil Vij,

अभय चौटाला द्वारा सीआईडी मामले में समर्थन पर गब्बर का जवाब (Anil Vij)

सच कहूँ/अनिल कक्कड़  चंडीगढ़। बॉलीवुड की एक मशहूर फिल्म का डायलॉग है कि ‘मुझ पर एक अहसान करना, कि मुझ पर कोई अहसान न करना’, लगता है कि प्रदेश के गृह और स्वाथ्य मंत्री अनिल विज इनैलो विधायक अभय चौटाला को इसी डायलॉग से समझा रहे हैं कि उन्हें चौटाला के समर्थन की जरूरत नहीं है। दरअसल गत दिवस अभय चौटाला द्वारा सीआईडी मामले में अनिल विज के समर्थन में ब्यान दिया गया कि सीआईडी गृह विभाग का अहम हिस्सा है और अनिल विज ही उसके बॉस हैं। इस पर अपनी प्रतिक्रिया देते हुए (Anil Vij) विज ने कहा कि इसमें किसी के समर्थन या विरोध की कोई कीमत नहीं है।

  • विज यहीं नहीं रुके उन्होंने इनैलो शासनकाल को निशाने पर लेते हुए बड़ा हमला किया
  •  सीआईडी मामले में वही होगा वो जो किताब में लिखा है।
  •  कुछ नेता पहले दूसरी भाषा बोल रहे थे
  • क्योंकि उन्होंने कभी किताबों से शासन नहीं किया, उन्होंने तानाशाही से शासन किया।
  • इसलिए उनकी राजनीति भी यही थी कि किताब में जो भी लिखा हो, लेकिन जो हम कहें वही सही है।

केस न निपटाने वाले पुलिस अधीक्षक कार्रवाई के लिए रहे तैयार (Anil Vij)

हरियाणा में 11 पुलिस अधीक्षकों की कार्य प्रणाली से नाखुश होते हुए गृहमंत्री अनिल ने अपने तेवर सख्त कर दिए हैं। अनिल विज ने कहा कि जिन अधिकारियों के पास केस पेंडिंग हैं और उन्होंने इसका स्पष्टीकरण नहीं दिया या केसों को निपटाने में रूचि नहीं ले रहे हैं उनके खिलाफ कार्यवाही जरूर होगी।

संजय राउत द्वारा इंदिरा गाधी पर दिए ब्यान पर विज की चुटकी

गृहमंत्री अनिल विज ने शिवसेना नेता संजय राउत के इंदिरा गाँधी पर टिप्पणी करने और कांग्रेस द्वारा विरोध के बाद माफी मांगने को लेकर तंज कसते हुए अपने अंदाज चुटकी ली।

  • अनिल विज ने कहा कि लाख छुपाओ छुप न सकेगा।
  • राज वो कितना गहरा, दिल की बात बता देता है असली नकली चेहरा।
  • अनिल विज ने कहा की संजय राउत ने असली बात तो बता दी
  •  अब दबाव के कारण उन्होंने माफी भी मांग ली जो साफ नजर आ रहा है।

सीएए पर विद्यार्थियों के कंधे पर बंदूक चला रहा विपक्ष

छात्र संघ की नेता आरुषी घोष द्वारा सीएए और एनआरसी को लेकर असंवैधानिक करार देने के बयान पर गृहमंत्री अनिल विज ने कांग्रेस और विपक्षी पार्टियों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि जो लोग जेएनयू में घुस कर राजनीती कर रहे हैं ये उनकी आवाजें हैं।

  • ये लोग छात्रों के कंधे पर रख कर बंदूकें चलाए जा रहे हैं।
  • अनिल विज ने कहा कि ये देशहित में कभी नहीं सोचते और ये पाकिस्तान को जो सूट करता है वही करते हैं।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।