करियर को लेकर कंफ्यूजन हैं, तो ऐसे करें सही चुनाव

0
Confusion about Career
सच कहूँ/करियर डेस्क  सबकी जिन्दगी का सबसे हसीन पल होता है आपका बचपन। न किसी बात की चिंता न कोई फिक्र न वर्तमान की चिंता और न ही भविष्य की। लेकिन एक समय बाद ऐसा क्षण आता है जब हम सबको जिम्मेदारी का अहसास होता है, भविष्य की चिंता होती है। ( Confusion about Career) अपना करियर बनाने की होड़ होती है। जब इस समय में कुछ समझ नहीं आता तो मन में आता है कि काश कोई होता जो हमारा करियर मार्गदर्शन कर सकता। हमको बता सकता कि करियर का चुनाव कैसे करे,अच्छा करियर कैसे बनाये।
क्या कोर्स करें कि हमारे लिए और अधिक करियर विकल्प खुल जाएं। सब जानते हैं कि एक गलत कदम किसी का भी करियर बेकार कर सकता है और वहीं सोच समझ के उठाया गया कदम किसी की भी जिंदगी बदल सकता है। इन्ही सब बातों का ध्यान रखते हुए सच कहूँ आज आपको करियर सलाहकार की तरह समझायेंगे कि आपके लिए क्या सही है और क्या गलत।

अपने शौक के बारे में करें विचार

जरुरी नहीं की डॉक्टर या इंजीनियर बनने को ही अच्छा करियर कहा जाएगा। करियर उसे कहा जाता है जिस काम को करने में आपके मन को शांति मिले और मन को शांति सिर्फ उसी काम से मिलेगी जिस काम को आप पंसद करते हैं। इसलिए करियर के चुनाव के लिए आप सबसे पहले अपने शौक यानि की हॉबीज के बारे में सोचें। कई लोग अपने शौक से ही अपना करियर बनाने के तरीके ढूंढ लेते हैं और उसमें वो लोग काफी सफलता भी प्राप्त करते हैं।
जैसे कि अगर आपको एग्रीकल्चर में शौक है तो आप इसमें भी करियर बनाने के तरीके ढूंढ सकते हैं। आपको पेंटिंग करने का शौक है तो आप अपनी पेंटिंग का एग्जीबिशन कर सकते हैं। अगर आप क्रिएटिविटी में अच्छे हैं तो आपके पास करियर बनाने के अनगिनत करियर विकल्प हैं। जैसे कि आप इंटिरियर डिजाइनर का करियर विकल्प चुन सकते हैं। या फिर इवेंट मैनेजमेंट का भी आपके पास एक अच्छा करियर मार्गदर्शन है। इससे आप अपने शोक से भी जुड़े रहेंगे और अच्छी खासी कमाई भी हो जाएगी।

करियर काउंसलर से लें सुझाव

कुछ लोग ऐसे होते हैं जिनको करियर काउंसलिंग की जरुरत पड़ती है। आप किसी करियर मार्गदर्शन संस्था में भी जा सकते हैं। वो लोग करियर सलाहकार के पास जा सकते हैं। और उनको अपने करियर को लेकर जो दिक्कत आ रही है वो बता सकते हैं। करियर काउंसलर से बात करने से आपको करियर का चुनाव कैसे करे के लिए सही सलाह मिलेगी। साथ ही आपको करियर विकल्प के बारे में भी पता चलेगा जिनका आपको अंदाजा भी नहीं होगा। लेकिन यह बात भी ध्यान रखें कि करियर सलाहकार से आपको र्सिफ सलाह मिल सकती हैं। करियर के लिए क्या चुनना है और आपके लिए क्या सही होगा। उसका करियर मार्गदर्शन र्सिफ आप ही फैसला ले सकते हैं।

प्रायरिटीज का रखें ध्यान

करियर चुनने से पहले अपनी प्रायरिटीज का भी ध्यान रखें। जैसे कि जो लोग अपने परिवार के साथ ही रहना चाहते हैं। उन लोगों को वो करियर नहीं चुनना चाहिए जिसमें उन्हें घर से दूर जाना पड़े। जो लोग घर से दूर रहने के बाद अपने करियर पर फोकस नहीं कर पा रहे हैं। उनका घर से दूर रहने का कोई फायदा नहीं है। इसलिए करियर को चुनते समय अपनी प्रायरिटीज का भी ध्यान रखें। जिससे आपके करियर पर किसी और चीज का प्रभाव न पड़े। और आप अपने करियर पर अच्छे से ध्यान दे सकें। और उसमें सफलता प्राप्त करें।

सफलता के लिए है धैर्य जरुरी

सच कहूँ/करियर डेस्क जीवन में सफलता हासिल करना आसान नहीं है। इसके लिए जितनी मेहनत जरूरी है उतना ही जरूरी है धैर्य रखना। यदि आप में धैर्य नहीं है तो सफलता नहीं मिलेगी। आप जीवन में जितने बड़े लक्ष्य को प्राप्त करना चाहते हैं, आपको उसके लिए उतना ही ज्यादा संघर्ष करना होगा और उतनी ही अधिक धैर्य की आवश्यकता होती है। क्योंकि आपका लक्ष्य जितना बड़ा होगा, उसे प्राप्त करने में उतना ही समय लगेगा। हो सकता है कि आपको शुरूआत में असफलता का सामना करना पड़े। आपको बार-बार हार का मुंह देखना पड़े लेकिन अगर आप सब्र से काम लेते हैं और प्रयास जारी रखते हैं, तो आपको सफल होने से कोई नहीं रोक सकता।
कई बार विद्यार्थी जब किसी प्रतियोगी परीक्षा की तैयारी करते हैं तो जब शुरूआत में असफलता मिलती है तो उसे अधूरा छोड़ कर दूसरे लक्ष्य की ओर बढ़ जाते हैं। अपना धैर्य खो देने से वो दूसरे लक्ष्य में भी कामयाबी हासिल नहीं कर पाता। अगर आपने कुछ करने का सोचा है, तो ऐसा संभव ही नहीं कि वो आप न कर सकते हों। जरुरत होती है तो सही दिशा में फोकस करने की।
कई बार स्टूडेंट्स प्रयास तो करते हैं पर सही मार्गदर्शन न मिलने की वजह से सफल नहीं हो पाते हैं सफलता के लिए जरुरी है कि एक उचित मार्गदर्शन के साथ लगातार प्रयास तब तक किया जाए, जब तक की सफलता प्राप्त न हो जाए। इस लिए अगर आप लक्ष्य बना कर आगे बढ़ते हैं, वो फिर बैंकिंग, रेलवे, सिविल, डिफेंस, कोई भी क्षेत्र हो, आपको तब तक धैर्य के साथ लगातार प्रयास करते रहना चाहिए, जब तक की आपको सक्सेस न मिल जाए।
तनुज कंबोज इन्सां,
सक्सेस कॉचिंग सेंटर, रादौर।

इंटर्नशिप करें, मिलेगी सहायता

अगर आपको अपने करियर को लेकर कंफ्यूजन है तो आप पहले इंटर्नशिप कर सकते हैं। इंटर्नशिप का महत्त्व आपको तभी पता चलेगा। साथ ही आपको पता चलेगा की आपकी प्रोफेशनल लाइफ कैसी होगी। फिल्ड में काम करने से आपको अच्छी और सच्ची करियर गाइड मिलेगी।
और आपको पता चलेगा कि भविष्य में आपका करियर मार्गदर्शन आपको कहां ले जाएगा। इंटर्नशिप में आप वहां के अनुभवी लोग आपके लिए करियर सलाहकार बन सकते हैं। अगर आप अपनी इंटर्नशिप से खुश हैं तो उसी फिल्ड में अपना करियर बनाएं। नहीं तो आप अपना करियर आॅपशन बदल सकते हैं। इसलिए इंटर्नशिप आपकी कंफ्यूजन को दूर कर देगी।

अगर आप छात्र हैं तो करते  रहे पार्ट टाईम जॉब

अगर आप 12वीं के बाद करियर के बारे में सोच रहे हैं तो एक बात का खास ध्यान रखें। इस पड़ाव पर कोई भी स्पेसिफिक करियर न चुने। क्योंकि अभी आपके पास कई करियर आॅप्शन आएंगे। जैसे कि साइंस में करियर, गणित में करियर, जीव विज्ञान में करियर, आर्ट्स में करियर आदि।
जिन करियर के बारे में आपको पता भी नहीं है उन करियर विकल्प से भी आप रुबरु होंगे। इसलिए अभी से कोई भी फिक्स करियर न चुने। आप पार्ट टाइम जॉब कर सकते हैं। लेकिन अभी आपको अपने करियर मार्गदर्शन और अपने आपको जानना होगा। जैसे-जैसे आप आगे बढ़ेंगे आपके सामने कई करियर आॅपशन आएंगे। और आपका मन कभी भी बदल सकता है। इसलिए अभी आप र्सिफ नई-नई चीजों को एक्सप्लोर करें।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।