हरियाणा

हुड्डा-तंवर गुट में फिर नोकझोंक

Bhupinder Singh Hooda, Ashok Tanwar, Meeting, Haryana

पार्टी के संगठनात्मक चुनाव संबंधी बैठक में हुए थे इक्ट्ठा

  • तकरार के बाद तंवर ने अपने शब्द लिए वापिस
  • मीडिया में दोनों नेताओं ने किसी भी तकरार की बात टाली

चंडीगढ़(अनिल कक्कड़)। पूर्व मुख्यमंत्री भूपेंद्र सिंह हुड्डा एवं कांगे्रस प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर दिल्ली में हुई खूनी झड़प कें बाद पहली बार कांग्रेस के संगठनात्मक चुनावों के लिए हुई बैठक में इकट्ठा हुए। बैठक के दौरान फिर से हुड्डा गुट के विधायकों के साथ तंवर नोक-झोंक हुई जिसमें हुड्डा गुट फिर तंवर पर भारी पड़ा।

हालांकि मीडिया के सामने कांग्रेसी नेताओं ने किसी भी तकरार ने इंकार किया है। बता दें कि संगठनात्मक चुनावों की तैयारी कर रही कांग्रेस पार्टी के विधायकों की एक मीटिंग चंडीगढ़ में रखी गई थी। जिसमें भूपेंद्र सिंह हुड्डा गुट के विधायकों सहित पार्टी प्रदेशाध्यक्ष अशोक तंवर, रोहतक से सांसद दीपेंद्र हुड्डा एवं पार्टी रिटर्निंग आफिसर प्रदीप जैन भी पहुंचे थे।

सूत्रों के अनुसार बैठक में हुड्डा गुट ने तंवर गुट से मैंबरशिप पार्टी में सार्वजनिक करने की मांग की लेकिन इस पर अशोक तंवर ने भड़कते हुए हुड्डा गुट के एक विधायक के लिए अपमानजनक शब्दों का प्रयोग कर दिया। कांग्रेस के प्रांतीय चुनाव प्रभारी प्रदीप जैन ने कहा कि बैठक में हरियाणा कांग्रेस के सभी विधायकों और सांसदों को बुलाया गया था।

वहीं उन्होंने कहा कि बैठक सोहार्दपूर्ण तरीके से हुई है तथा कांग्रेस पार्टी एकजुट होकर संगठनात्मक चुनाव करवाएगी। बता दें कि बैठक में विधायक रणदीप सुरजेवाला, किरण चौधरी, ललित नागर, कुलदीप बिश्नोई, रेणुका बिश्नोई सहित छह विधायक नहीं पहुंचे।

मेरा कभी किसी से कोई झगड़ा नहीं रहा

मेरा कभी किसी से झगड़ा नहीं रहा। पार्टी पूरी तरह एकजुट है एवं सगठनात्मक चुनाव करवाने के लिए तैयारी की जा रही है। हालांकि इस दौरान तंवर के चेहरे से मीटिंग में हुई गर्मा-गर्मी स्पष्ट झलक रही थी।
अशोक तंवर, प्रदेशाध्यक्ष, कांग्रेस

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top