शहद उत्पादन 242 और निर्यात 265 प्रतिशत बढ़ा

0
Honey production increased

निर्यात: किसानों की आमदनी दोगुना करने में मधुमक्खी पालन बहुत सहायक हो सकता है  (Honey Production Increased)

  • कृषि मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर ने दी जानकारी 

नई दिल्ली (एजेंसी)। कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने शुक्रवार को कहा कि देश में अब शहद उत्पादन 242 प्रतिशत बढ़ गया है, वहीं इसके निर्यात में 265 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। सिंह ने मधुमक्खी दिवस के अवसर पर कहा कि किसानों की आय बढ़ाने के लिए सरकार मधुमक्खी पालन को बढ़ावा दे रही है और आत्मनिर्भर भारत अभियान में इसके लिए 500 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है। तोमर ने कहा कि देश के मधुमक्खी पालकों की मेहनत से, विश्व में शहद के पांच सबसे बड़े उत्पादकों में भारत का नाम शुमार है।

  • भारत में वर्ष 2005-06 की तुलना में अब शहद उत्पादन 242 प्रतिशत बढ़ गया है।
  • वहीं इसके निर्यात में 265 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।
  • किसानों की आमदनी दोगुना करने में मधुमक्खी पालन बहुत सहायक हो सकता है।

मधुमक्खी पालन के प्रशिक्षण के लिए चार माड्यूल बनाए गए

आज ही मीठी क्रांति और आत्मनिर्भर भारत विषय पर राष्ट्रीय सहकारी विकास निगम (एनसीडीसी) ने नेशनल बी बोर्ड, पश्चिम बंगाल सरकार, उत्तराखंड सरकार और शेर-ए-कश्मीर कृषि विज्ञान और प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय, कश्मीर के साथ मिलकर एक वेबिनार किया। इसमें तोमर ने कहा कि शहद उत्पादन और उसके निर्यात में वृद्धि इस बात को प्रदर्शित करती है कि इस काम से किसान भी लाभान्वित हो रहे हैं, उनके जीवन स्तर में बदलाव आ रहा है और उनकी आमदनी भी बढ़ रही है।

  • मधुमक्खी पालन के प्रशिक्षण के लिए चार माड्यूल बनाए गए हैं।
  • जिनके माध्यम से देश में 30 लाख किसानों को प्रशिक्षण दिया गया है।
  • इन्हें अन्य सहायता भी उपलब्ध कराई गई है।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।