वारिस पठान के बयान पर गरमाई सियासत

0
Pathan's statement heats up politics - Sach Kahoon News

मामला: एआईएमआईएम नेता ने कहा था कि 100 करोड़ पर भारी पड़ेंगे 15 करोड़

  • भाजपा विधायक बोले-ट्रायल करके देख लो

नई दिल्ली (एजेंसी)। आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (एआईएमआईएम) के राष्ट्रीय प्रवक्ता वारिस पठान के 100 करोड़ पर भारी पड़ेंगे 15 करोड़ वाले बयान पर राजनीति गरमा गई है। (leader Waris Pathan) वारिस पठान ने अपने बयान पर माफी मांगने से इनकार कर दिया है और कहा है कि मेरे बयान को गलत और तोड़मोड़ कर पेश किया गया है। वहीं इस बयान पर तेलंगाना से बीजेपी विधायक ने खुला चैलेंज दिया है कि एक बार ट्रायल करके देख लो। बीजेपी सांसद ने तो पठान को उत्तर प्रदेश आने का न्योता भी दे दिया है।

  • आरजेडी नेता तेजस्वी ने उनकी गिरफ्तारी की मांग की है।
  • तेलंगाना के गोशामहल से बीजेपी विधायक टाइगर राजा सिंह ने कहा है।
  • अगर कोई पाकिस्तान जिंदाबाद बोलेगा उनके खिलाफ एफआईआर नहीं बल्कि पाकिस्तान छोड़कर आना चाहिए।
  • वारिस पठान कहता है कि 15 करोड़ मुस्लिम 100 करोड़ पर भारी पड़ेंगे।
  • ये किस भाषा का उपयोग कर रहे हो।
  • क्या तुम लोग हम पर भारी पड़ोगे?
  • क्या एक बार ट्रायल देख लेंगे है इतना दम आप में।

ये बयान शर्मनाक है और उन्हें गिरफ्तार किया जाना चाहिए। एआईएमआईएम भाजपा की बी-टीम के रूप में काम कर रही है। उसी तरह अनुराग ठाकुर और प्रवेश वर्मा जैसे नेताओं को भी गिरफ्तार किया जाना चाहिए। जो कोई भी उत्तेजक बयान दे उसके खिलाफ कार्रवाई होनी ही चाहिए।
-तेजस्वी यादव, आरजेडी नेता

वारिस पठान के खिलाफ सख़्त कार्रवाई होना चाहिए। कांग्रेस सदैव कट्टरपंथी विचारधारा के खिलाफ लड़ी है। भाजपा और एआईएमआईएम एक-दूसरे के पूरक हैं। दोनों धार्मिक भावना फैला कर नफरत पैदा करते हैं।
-दिग्विजय सिंह, कांग्रेस

ओवैसी की पार्टी के कद्दावर नेता वारिस पठान कहते हैं कि हम छीन कर लेंगे आजादी

मैं इन तथाकथित लिबरल से पूछना चाहता हूं कि कौन सी आजादी चाहिए, किससे आजादी चाहिए? ओवैसी की पार्टी ने कहा है कि 15 करोड़, 100 करोड़ पर भारी पड़ेंगे। अगर भाजपा के नेता ने ऐसा कोई बयान दे दिया होता तो आज सारे तथाकथित लिबरल सड़क पर उतर जाते, पूरे देश में कोहराम मचा देते। लेकिन आज एक भी सामने नहीं आ रहा है, एक भी सवाल नहीं पूछ रहा है।
-संबित पात्रा

वारिस पठान का बयान काफी निदंनीय और शर्मनाक है। ऐसे लोग समाज और देश को तोड़ने का काम करते है। ऐसे बयान से देश जुड़ता नहीं और एकता भाईचारा नहीं बनता है। सभ्य समाज में इसे स्वीकारा नहीं जा सकता। देश में दंगल कराएंगे, झगड़ा करना चाहते हैं।
-संजय सिंह, आम आदमी पार्टी

क्या कहा था वरिस पठान ने

वारिस पठान ने बिना किसी धर्म का नाम लिये कहा था कि देश में मुसलमानों की संख्या भले ही 15 करोड़ से कम हो लेकिन जरूरत पड़ने पर वे 100 करोड़ लोगों पर भारी पड़ेंगे। उन्होंने कहा था कि अभी तो केवल मुस्लिम महिलाएं बाहर निकली हैं तो पूरा देश परेशान हो गया। जब पूरा समुदाय एकजुट होकर बाहर निकलेगा, तब बहुत बड़ा असर पड़ेगा।
हमनें इंट का जवाब पत्थर से देना हमने सीख लिया है।

  • मगर इकट्ठा होकर चलना होगा।
  • अगर आजादी दी नहीं जाती तो हमें छीनना पड़ेगा।
  • वे कहते हैं कि हमने औरतों को आगे रखा है, अभी तो केवल शेरनियां बाहर निकली हैं तो तुम्हारे पसीने छूट गए।
  • तुम समझ सकते हो कि अगर हम सब एक साथ आ गए तो क्या होगा।
  • पन्द्रह करोड़ हैं लेकिन 100 के ऊपर भारी हैं। ये याद रख लेना। 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।