जर्दालू आम की भारी मांग, यातायात के साधनों की कमी से आपूर्ति पर असर

0
Demand of Mango

नयी दिल्ली। भागलपुरी जर्दालू आम उत्पादक संघ ने कहा है कि जर्दालू आम की भारी मांग है लेकिन यातायात के साधनों की कमी से इसकी आपूर्ति प्रभावित हो रही है। संघ के अध्यक्ष अशोक चौधरी ने मंगलवार को बताया कि बिहार सरकार का उद्यान विभाग डाक विभाग के माध्यम से इस बार लोगों के घरों पर आम आपूर्ति के लिए ऑर्डर ले रहा है। किसान उत्पादक संघ को इसके लिए दस हजार किलो आम की आपूर्ति का ऑर्डर मिला है।

चौधरी ने बताया कि एक जून से आम की आपूर्ति की जाएगी। उन्होंने कहा कि देश के अन्य हिस्सों से भी इस आम की आपूर्ति के बारे में पूछताछ की जा रही है लेकिन लॉकडाउन के कारण रेल गाड़ियों के नहीं चलने से बाहर का ऑर्डर नहीं लिया जा रहा है । आम बाहर जाने से किसानों को और बेहतर मूल्य मिलता लेकिन ऐसा नहीं हो पा रहा है ।ट्रक से आम भेजने के लिए उतनी मात्रा में एक साथ आम होना चाहिए, जो संभव नहीं है।

उन्होंने कहा कि इस बार तापमान में भारी वृद्धि होने के कारण पिन बोरेर कीड़े का भारी प्रकोप हो गया है जो आम को नुकसान पहुंचा रहे हैं । इससे पहले आंधी के कारण भी जर्दालू आम को भारी नुकसान हुआ था। चौधरी ने कहा कि जर्दालू आम के सुपाच्य , सुगंधित और अन्य आम के पहले बाजार में आने के कारण इसकी भारी मांग है । उल्लेखनीय है कि जर्दालू आम को जी आई पहचान मिली हुई है । इस आम की मांग में पिछले कुछ वर्षों में हुई वृद्धि के कारण किसानों ने इसके नए बाग लगाए हैं जिसके दो-तीन साल में फैलने की आशा है।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।