LIVE : 101वां पावन अवतार दिवस : रक्तदान के लिए ट्रयू ब्लड पंपों की लगी कतारें

0
Free-Health-Checkup-Camp-+.2

विशाल रक्तदान शिविर के आगाज में पहुंचे आदरणीय शाही परिवार के सदस्य | Free Health Checkup Camp

  • विनती का शब्द बोल कर किया रक्तदान कैंप का आगाज
  • डेरा सच्चा सौदा के महिला-पुरुष श्रद्धालुओं में दिखा गजब का जोश

सिरसा (अनिल कक्कड़-रविंद्र रियाज)। पूरी दुनिया में आज परमपिता शाह सतनाम सिंह जी महाराज के 101वें पावन अवतार दिवस की धूम है। डेरा सच्चा सौदा शाह सतनाम जी धाम में इसकी बानगी की बेनजीर तस्वीर हू-ब-हू देखी जा सकती है। इस पावन दिवस की शुरूआत डेरा सच्चा सौदा में एक विशाल रक्तदान शिविर से हुई है। कैंप की शुरूआत आदरणीय शाही परिवार, डेरा सच्चा सौदा की प्रबंधक कमेटी एवं शाह सतनाम जी ग्रीन एस वैल्फेयर फोर्स विंग के सदस्यों के साथ-साथ साध-संगत द्वारा विनती का शब्द बोल कर गई।

3 हजार यूनिट रक्तदान का लक्ष्य, 10 टीमें ब्लॅड एकत्र करने पहुंची

Free-Health-Checkup-Camp

इस संबंध में जानकारी देते हुए कैंप के आयोजनकर्ता कृष्णपाल चैहान इन्सां ने बताया कि परमपिता शाह सतनाम सिंह जी महाराज के पावन अवतार दिवस के अवसर पर लगाए जा रहे इस विशाल रक्तदान शिविर में रक्तदान को लेकर साध-संगत का उत्साह देखते ही बन रहा है। चैहान इन्सां ने बताया कि इस बार भी टारगेट से ज्यादा रक्त संग्रहण होगा।

उन्होंने बताया कि इस बार का टारगेट लगभग 3 हजार यूनिट का है लेकिन साध-संगत के जज्बे से लग रहा है कि यहां टारगेट से ज्यादा रक्त संग्रहण होगा। उन्होंने बताया कि विभिन्न ब्लॅड बैंकों की 10 टीमें यहां पहुंच चुकी हैं जिनमें महाराष्ट्र, राजस्थान, दिल्ली, यूपी, हरियाणा व पंजाब की टीमें शामिल हैं।

विदेशों से आए सत्संगी भी कर रहे रक्तदान

वहीं इस कैंप में जहां हरियाणा, पंजाब, यूपी, दिल्ली, उड़ीसा, बिहार, मध्यप्रदेश, राजस्थान, हिमाचल, उत्तराखंड के साथ-साथ नेपाल, आस्ट्रेलिया, दुबई, न्यूजीलैंड, कनाडा, अमेरिका आदि की साध-संगत भी रक्तदान कर रही है।

विशाल नामचर्चा में हिस्सा लेने के लिए पहुंचे लाखों लोग

बता दें कि इस पाक-पवित्र दिन के अवसर पर डेरा सच्चा सौदा में आज 12 बजे से 2 तक विशाल नामचर्चा का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें करोड़ों लोगों के पहुंचने की संभावना है। साध-संगत 24 जनवरी की रात से डोल-नगाड़ों की थाप पर नाच-गाकर अपनी खुशी का इजहार कर रही है। वहीं साध-संगत की सुविधा के लिए हजारों सेवादार यातायात, लंगर-पानी व उनके ठहरने की सुविधाओं में लगे हुए हैं।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।