राज्य

हवा सिंह सांगवान ने सवर्णों को मिले 10 फीसदी आरक्षण पर सवाल खड़े किए

Hawa Singh Sangwan

भिवानी पहुंचे जाट आरक्षण संघर्ष समिति के प्रदेश अध्यक्ष | Hawa Singh Sangwan

भिवानी(सच कहूँ न्यूज)। भिवानी पहुंचे जाट आरक्षण संघर्ष समिति के प्रदेश अध्यक्ष हवासिंह सांगवान (Hawa Singh Sangwan) ने स्वर्णों को आर्थिक आधार पर दिए आरक्षण को गैरसंवैधानिक व वोटों के लिए छलावा करार दिया। उन्होंने कहा कि ये आरक्षण मिला भी तो केवल अमीर व संपन्न लोग ही फायदा उठाएंगें। साथ ही उन्होंने सीएम मनोहरलाल की मंशा पर भी सवाल उठाए।

जाट धर्मशाला में मीडिया से रूबरू हुए पूर्व कमांडेंट एवं अखिल भारतीय जाट आरक्षण संघर्ष समिति के प्रदेश अध्यक्ष हवासिंह सांगवान ने स्वर्णों को मिले 10 फीसदी आरक्षण पर सवाल खड़े किए। उन्होंने कहा कि आरएसएस के इशारे पर ये आरक्षण केवल वोट के लिए छलावा है। उन्होंने कहा कि संविधान में आरक्षण के लिए केवल शैक्षणिक व सामाजिक तौर पर ही आरक्षण दिया जा सकता है। ऐसे में ये आरक्षण सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर होने पर टिक नहीं पाएगा। यदि मिला भी तो शर्तों के मुताबिक, इसका फायदा गरीब स्वर्णों की बजाए केवल अमीर व संपन्न लोग ही उठाएंगें।

वही हवासिंह सांगवान ने सीएम मनोहरलाल पर भी निशाना साधा और कहा कि मुख्यमंत्री कहने को हरियाणा एक-हरियाणवी एक का नारा देते हैं, लेकिन निगम चुनावों में मुख्यमंत्री ने हर जगह पंजाबी होने के नाते वोट मांगें हैं। उन्होंने कहा कि जो व्यक्ति प्रदेश की सम्मान नहीं करता वो देश का सम्मान कभी नहीं कर पाता। सांगवान ने कहा कि भाजपा की जातिगत राजनीति व वोटबैंक के लिए स्वर्णों के आरक्षण को लेकर वो जींद उपचुनावों में प्रचार कर लोगों को जगरूक करेंगें।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

 

लोकप्रिय न्यूज़

To Top

Lok Sabha Election 2019