हाथरस केस: पीड़िता परिवार से मिलने के लिए दिल्ली से निकले राहुल गांधी

0
Hathras Case

सीबीआई जांच की सिफारिश करें योगी : अनुप्रिया

नई दिल्ली (सच कहूँ न्यूज)। हाथरस में हैवानियक की शिकार पीड़िता को न्याय दिलानें के लिए देशभर में प्रदर्शन किए जा रहे हैं। विपक्ष लगातार सरकार पर हमलावर हो रही है। सरकार पर सीबीआई जांच का दबाव बनता जा रहा है। हालांकि सरकार ने कार्रवाई करते हुए पुलिस अधीक्षक समेत 5 अधिकारियों को निलंबित कर दिया गया। राहुल गांधी आज फिर से हाथरस के लिए रवाना हो गए हैं। उधर नोएडा बॉर्डर पर उन्हें रोकने के लिए भारी मात्रा पुलिस बल तैनात किए गए है। वहीं अपना दल (एस) अध्यक्ष एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री अनुप्रिया पटेल ने योगी सरकार से अपील की है कि वह मामले की सच्चाई सामने लाने के लिए सीबीआई जांच की अनुशंसा करे। श्रीमती पटेल ने शनिवार को जारी बयान में कहा कि हाथरस कांड में पीड़िता के परिजनों को हर हाल में न्याय मिलना चाहिए।

यूपी कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू घर में नजरबंद

उत्तर प्रदेश में हाथरस की घटना पर मुखर कांग्रेस के बढ़ते कदमो को थामने के लिए योगी सरकार ने तमाम इंतजाम किए हैं। इस कवायद में कांग्रेस अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू के लखनऊ स्थित बहुखंडी आवास में देर रात से ही पहरा बैठा दिया गया है वहीं कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा के हाथरस के संभावित दौरे के मद्देनजर दिल्ली सीमा पर सुरक्षा के चाक चौबंद इंतजाम किए गए हैं।

हाथरस की पीड़िता को न्याय दिलाने में राष्ट्रपति करें मदद : मायावती

लल्लू ने कहा कि उन्हे उनके घर में देर रात एक बजे से ही नजरबंद कर दिया गया है। उन्हे कहीं बाहर जाने की मनाही है। पुलिस पूछने पर बताती है कि उनकी सुरक्षा के लिए ए कदम उठाया गया है। आखिर ए सरकार क्या छुपाना चाहती है। कानून व्यवस्था संभालने में नाकाम सरकार विरोध की आवाज भी दबाना चाहती है। उधर पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया, ‘दुनिया की कोई भी ताकत मुझे हाथरस के इस दुखी परिवार से मिलकर उनका दर्द बांटने से नहीं रोक सकती।

क्या है पूरा मामला

गौरतलब है कि गत 14 सितंबर को हाथरस जिले के चंदपा थाना क्षेत्र स्थित एक गांव की रहने वाली 19 वर्षीय दलित लड़की से कथित तौर पर सामूहिक दुराचार किया गया था। हालांकि पोस्टमॉटम रिपोर्ट में कहा गया है पीड़िता के साथ दुराचार नहीं हुआ था। लड़की को रीढ़ की हड्डी में चोट और जीभ कटने की वजह से पहले अलीगढ़ के जवाहरलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया था। उसके बाद उसे दिल्ली स्थित सफदरजंग अस्पताल ले जाया गया था, जहां मंगलवार सुबह उसकी मौत हो गई थी।

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।