बेरोजगारी में हरियाणा ‘नम्बर वन’

0
Haryana reached number one in unemployment

अक्टूबर माह में आंकड़ा 27.3 फीसदी दर्ज (Unemployment)

  • राजस्थान दूसरे और जम्मू-कश्मीर तीसरे स्थान पर

अश्वनी चावला चंडीगढ़। खेल पदकों और खुशहाली के मामले में देश के लिए कभी उदाहरण रहा हरियाणा अब बेरोजगारी (Unemployment) दर में नंबर वन पर पहुंच गया है। हालात ये हैं कि बेरोजगारी दर में उच्च स्तर पर खड़े इस राज्य के आस पास कोई दूसरा राज्य नहीं है। जबकि पड़ोसी राज्य बेरोजगारी की दर में हरियाणा से आधे से भी कम पर टिके हुए हैं जबकि हरियाणा टॉप पर रहते हुए रोजगार के मामले में पिछड़ रहा है।
सोमवार को जारी हुए अक्टूबर माह के बेरोजगारी दर के आंकड़ों में भारत में 6.98 फीसदी बेरोजगारी दर चल रही है, जब कि इससे पहले सितंबर माह में यह 6.67 फीसदी दर थी। सेंटर फॉर मॉनिटरिंग इंडियन इकोनॉमी द्वारा जारी डाटा के मुताबिक सितंबर माह में हरियाणा राज्य में बेरोजगारी दर 19.7 फीसदी थी। अक्टूबर माह में भी हरियाणा में कोई सुधार नहीं हुआ है, जिसके चलते बेरोजगारी दर बढ़कर 27.3 फीसदी पहुंच गई। बेरोजगारी दर के टॉप फाइव की अगर बात करें तो हरियाणा के बाद राजस्थान, जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश और झारखंड का नाम है। हरियाणा सरकार की तरफ से कोई आधिकारिक बयान देने की जगह सिर्फ इतना ही कहा जा रहा है कि ऐसा लॉकडाउन के चलते हुआ है। जबकि लॉकडउन देशभर में था तो इसका ज्यादा असर हरियाणा में कैसे दिखाई दे रहा है, यह तथ्य स्पष्ट नहीं किया जा रहा।

पड़ोसी राज्यों में हरियाणा से आधे से भी कम दर

हरियाणा प्रदेश के पड़ोसी राज्यों में बेरोजगारी दर हरियाणा से आधे से भी कम दर्ज की जा रही है, जिसको लेकर ही हरियाणा पर सवाल उठ रहे हैं कि ऐसा क्या हो रहा है कि प्रदेश में बेरोजगारी दर बढ़ती जा रही है, जबकि इसका असर पड़ोसी राज्यों में कम है। पंजाब में 9.9, दिल्ली में 6.3 फीसदी दर्ज की गई है।

बेरोजगारी में देश के टॉप पाँच राज्य

राज्य                                बेरोजगारी दर
हरियाणा                            27.3 फीसदी
राजस्थान                          24.1 फीसदी
जम्मू कश्मीर                     16.1 फीसदी
हिमाचल                            13.5 फीसदी
झारखंड                             11.8 फीसदी

 

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।