हरियाणा सरकार गो तस्करी के खिलाफ करेगी कार्रवाई

0
Haryana government will take action against cow smuggling

स्पेशल टास्क फोर्स होगी गठित, 11 सदस्य होंगे (Special Cow Task Force)

चंडीगढ़ (सच कहूँ न्यूज)। गो तस्करी और गोकशी (Cow Smuggling) मामलों पर लगाम लगाने के लिए हरियाणा सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। सरकार जिला स्तर पर 11 सदस्यीय ‘स्पेशल काऊ टास्क फोर्स’ का गठन करेगी। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने गो सेवा आयोग की बैठक में इस संदर्भ में संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए हैं। मुख्यमंत्री ने आदेशों में कहा कि टास्क फोर्स में सरकारी और गैर सरकारी सदस्य शामिल होंगे। इनमें पुलिस, पशुपालन, शहरी स्थानीय निकाय विभाग के अधिकारी और हरियाणा गो सेवा आयोग, गो रक्षक समितियों और गो सेवकों के 5 सदस्य शामिल होंगे।

सरकार द्वारा सभी गोशालाओं को उपयोगी और अनुपयोग पशुओं के अनुपात के अनुसार राशि प्रदान की जाएगी

  • 33 प्रतिशत से कम अनुपयोगी पशुओं को रखने वाली गौशालाओं को कोई सरकारी अनुदान प्रदान नहीं किया जाएगा।
  • 33 से 50 प्रतिशत तक अनुपयोगी पशुओं को रखने वाली गौशालाओं को प्रति वर्ष 100 रुपए प्रति पशुधन दिया जाएगा।
  • 51 से 75 प्रतिशत तक अनुपयोगी पशुओं को रखने वाली गौशालाओं को प्रति वर्ष 200 रुपए प्रति पशुधन दिया जाएगा।
  • 76 से 99 प्रतिशत तक अनुपयोगी पशुओं को रखने वाली गौशालाओं को प्रति वर्ष 300 रुपए पशुधन दिया जाएगा।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।