‘बेरोजगारी और अपराधों में नंबर वन बना हरियाणा’

0
Unemployment and Crime in Haryana

सरकार व्यापारी व आम जनता की सुरक्षा करने में विफल

झज्जर (संजय भाटिया/सच कहूँ)। हरियाणा प्रदेश व्यापार मंडल के प्रांतीय अध्यक्ष व हरियाणा कान्फैड के पूर्व चेयरमैन बजरंग गर्ग ने निजी होटल में पत्रकार सम्मेलन में कहा कि प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं है। प्रदेश में जंगलराज कायम है। आज हरियाणा प्रदेश में कानून व्यवस्था की स्थिति खराब होने व बेरोजगारी के मामले में देश के पहले स्थान पर है। आज प्रदेश में हर रोज लूटपाट, फिरौती, अपहरण, हत्या, चोरी आदि की वारदातें में लगातार बढ़ोत्तरी हो रही है। प्रदेश का व्यापारी, उद्योगपति व आम जनता अपनी जान-माल की सुरक्षा के लिए पूरी तरह से भयभीत है।

जबकि प्रदेश की जनता की जान-माल की सुरक्षा करने की जिम्मेदारी सरकार की होती है, मगर सरकार व्यापारी व आम जनता की जान-माल की सुरक्षा करने में पूरी तरह विफल सिद्ध हुई है। जो सरकार व्यापारी व आम जनता की जान माल की सुरक्षा ना कर सके। उस सरकार को जनता से किसी प्रकार का टैक्स लेने का अधिकार नहीं होना चाहिए।

75% प्रदेश के युवाओं के रोजगार के ऐलान से किया गुमराह

प्रांतीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने कहा कि आज सरकार की गलत नीतियों व कोरोना महामारी के कारण प्रदेश में लगभग व्यापार व उद्योग धंधे ठप्प पड़े हैं। जिसके कारण लाखों लोग प्रदेश में बेरोजगार हो गए हैं। जबकि सरकार व्यापार व उद्योगों को बढ़ावा देने की बजाए प्रदेश में व्यापार, उद्योग व प्राइवेट सेक्टरों में 75 प्रतिशत युवाओं को रोजगार देने की बात कर के युवाओं को गुमराह कर रही है। जब पहले ही प्रदेश में व्यापार व उद्योग धंधे ठप्प है और सरकार ने व्यापार व उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए व्यापारी व उद्योगपतियों को किसी प्रकार की रियायतें नहीं दी है। तो ऐसे में पड़ोसी राज्यों के उद्योगपति हरियाणा में उद्योग लगाने की गलती नहीं करेगा।

किसान व आढ़तियों को किया जा रहा तंग

गर्ग ने कहा कि सरकार नए-नए कानून बनाकर किसान व आढ़तियों को नाजायज तंग करने में लगी हुई है। सरकार के नए आदेशानुसार मंडी में फसल आने पर मार्केट फीस लगेगी और मंडी के बाहर फसल बिकने पर मार्केट फीस नहीं लगेगी। इस फरमान से किसान लूटेगा और मंडिया बर्बाद हो जाएगी। जब किसान की फसल मंडी में खुले भाव में नहीं बिक्रेगी तो बड़ी-बड़ी कंपनियां किसान की फसल ओने-पौने दामों में खेतों में ही एडवांस खरीद लेगी। इससे किसान को बड़ा भारी नुकसान उठाना पड़ेगा और जब किसान की फसल मंडी में ही नहीं बिकेगी तो हरियाणा की मंडियां बंद हो जाएगी।

मार्केट फीस समाप्त करने की मांग

प्रांतीय अध्यक्ष बजरंग गर्ग ने सरकार से मांग की है कि वह अपने वादे के अनुसार जीएसटी लगने के बाद मार्केट फीस देश में समाप्त करें व देश में बेरोजगारी खत्म करने के लिए व्यापार व उद्योग धंधे को बढ़ावा देने के लिए ज्यादा से ज्यादा रियायतें व सुविधा दे। व्यापार मंडल जिला प्रधान सोहन सिंह गुज्जर, शहरी प्रधान प्रमोद बंसल, उपप्रधान तुसली अग्रवाल, डॉ. अशोक कुमार वर्मा, डॉ. नरेश शर्मा, अनाज मंडी प्रधान चांद राम पहलवान, प्रधान अतर सिंह कादयान बेरी, प्रदेश सचिव नरेन्द्र कादयान बेरी, संजय गुलिया, विनोद गर्ग, आशीश दहिया आदि व्यापारी प्रतिनिधी मौजूद थे।

अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।