गुरुग्राम: दलित बस्ती में गाड़ियां व दुकानें फूंकी

0
Gurugram, Fire, Cars, Shops, Dalit Basti

वजीरपुर गांव में तनावपूर्ण माहौल

  • जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल कर पूरी रात करते रहे हमलावर
  • पीड़ितों के ही चार युवकों को किया पुलिस के हवाले

गुरुग्राम(सच कहूँ न्यूज)। शुक्रवार की रात से लेकर शनिवार अल सुबह तक जिला के गांव वजीरपुर में सवर्ण जाति के लोगों ने दलितों पर जमकर कहर बरपाया। उन्होंने दलित बस्ती में घुसकर लोगों के साथ न केवल मारपीट की, बल्कि उनकी दुकानों और वाहनों तक को आग के हवाले कर दिया। दलितों का यह भी आरोप है कि उन पर फायरिंग भी की गई।

उन्होंने पुलिस को मौके से एक देशी कट्टा बरामद कराया है। बता दें कि वजीरपुर गांव बीजेपी के जिलाध्यक्ष भूपेंद्र चौहान व जिला परिषद के चेयरमैन कल्याण सिहं चौहान का गांव है। गांव में माहौल तनावपूर्ण है। जानकारी के अनुसार वजीरपुर गांव में बीती देर रात सवर्ण जाति के लोगों ने दलित बस्ती में घुसकर कहर बरपाया। उनके बीच किसी बात को लेकर कहासुनी हो गई थी।

बस फिर क्या था, गांव के राजपूत समुदाय के लोगों ने लाठी, डंडे व अन्य सामग्री लेकर दलित बस्ती पर हमला बोल दिया। लोगों को खूब चोटें आई। राजपूतों ने दलितों की दुकानों व वाहनों तक को आग लगा दी। अल सुबह मामले की खबर गुरुग्राम पुलिस को दी गयी जिसके बाद हरकत में आई। पुलिस ने मामले पर साफ तौर से बोलने की जगह मामले की तफ्तीश की बात कही है।

मामले को गंभीरता से लिया जा रहा: शमशेर सिंह

एसीपी क्राइम शमशेर सिंह का कहना है कि गांव में जैसे ही झगड़े की सूचना मिली, पुलिस तुरंत मौके पर पहुंची। मामले को गंभीरता से लिया जा रहा है। आपको बता दें कि वजीरपुर गांव से बीजेपी के दो प्रतिनिधि हैं। एक तो भूपेंद्र चौहान जिलाध्यक्ष हैं और दूसरे कल्याण सिंह चौहान जिला परिषद के चेयरमैन हैं। उनके गांव में इस तरह की घटना इस बात पर सवाल खड़े करती है कि बड़े-बड़े दावे करने वाले बीजेपी नेताओं के गांव में हालात ऐसे हैं तो फिर बाकी जगह क्या होगा।

 

 

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।