Breaking News

राजस्थान में फिर दहका गुर्जर आरक्षण आंदोलन

Gurjar Reservation Movement Again In Rajasthan

कई ट्रेनों का संचालन गड़बड़ा, हुई रद्द

जयपुर, एजेंसी। राजस्थान में भरतपुर सम्भाग के सवाईमाधोपुर जिले में गुर्जर आरक्षण आंदोलन के मद्देनजर पुलिस एवं प्रशासन (Gurjar Reservation Movement Again In Rajasthan) सतर्क हो गया हैं और जिले में रेलवे ट्रैक एवं राष्ट्रीय राजमार्गों पर सुरक्षा बल तैनात कर निगरानी रखी जा रही हैं। प्रशासिनक सूृत्रों के अनुसार गुर्जर नेता किरोड़ी सिंह बैंसला की सरकार को आंदोलन की चेतावनी के बाद सम्भाग से गुजरने वाले दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग के भरतपुर, बयाना, हिंडौन तथा सवाईमाधोपुर रेलवे स्टेशनों सहित पूरे रेल ट्रैक पर सुरक्षाबलों की कई कंपिनयां, रेलवे प्रोटेक्शन सिक्योरिटी फोर्स, आरएसी तैनात कर हालात पर नजर रखी जा रही हैं।

पटरियां उखड़ने की कोशिश

प्रदेश में लम्बे समय से 5 प्रतिशत आरक्षण की मांग कर रहा गुर्जर समाज एक बार फिर सड़कों और रेलवे ट्रैक पर उतर आया है। रेलवे प्रशासन (Gurjar Reservation Movement Again In Rajasthan) ने सुरक्षा की दृष्टि से कई ट्रेनों को रोक दिया है। इससे पहले कोटा से अवध एक्सप्रेस को सवाई-माधोपुर रेलवे स्टेशन पर रोका गया । चार अन्य ट्रेनों को भी अन्य स्थानों पर रोका गया है। कर्नल किरोड़ी सिंंह बैंसला के नेतृत्व में गुर्जरों ने कूच किया। आंदोलनकारी दिल्ली-मुम्बई रेलवे ट्रेक को जाम करेंगे। वहीं कई ट्रेनों का संचालन गड़बड़ा गया है। किरोड़ी बैंसला रेलवे ट्रेक पर पहुंचे हैं वहीं भारी संख्या में गुर्जर ट्रेकों पर बैठे हैं।

आंदोलन के मद्देनजर सरकार ने बढ़ाई सुरक्षा

मांगे मनवाने के लिए सरकार को शुक्रवार शाम पांच बजे तक का अल्टीमेटम दे चुके गुर्जर नेताओं का काउंटडाउन खत्म होते ही आक्रोश (Gurjar Reservation Movement Again In Rajasthan) फूट पड़ा। गुर्जर पटरियों पर जा बैठे हैं। अल्टीमेटम के बावजूद सरकार की ओर से सुध नहीं लेने पर कर्नल बैंसला ने कूच का आह्वान किया है। आंदोलनकारियों का कहना है कि दिल्ली मुंबई रेलवे ट्रैक को जाम करेंगे। दरअसल, आंदोलन की अगुवाई एक बार फिर किरोड़ी सिंह बैंसला के हाथों में है।

इससे पहले सवाईमाधोपुर जिले के मलारना डूंगर में गुर्जरों की महापंचायत में मौजूद बैंसला ने मीडिया से बात की और अपनी रणनीति का खुलासा किया। बैंसला के अनुसार सरकार को दिए अल्टीमेटम खत्म होते ही आंदोलन की शुरूआत हो जायेगी। गुस्साए गुर्जर प्रदर्शनकारी मजबूरन नेशनल हाइवे और रेलवे पटरियों पर उतरकर प्रदर्शन करने पर उतारू हैं। प्रदर्शनकारी जयपुर-दिल्ली सहित विभिन्न नेशनल हाइवे को जाम करने के लिए उतरेंगें। इसी तरह से रेल मार्गों को भी बाधित कर प्रदर्शन किया जाएगा।

किरोड़ी सिंह बैंसला के कूच के आह्वान के बाद गुर्जर समाज अब रेलवे ट्रेक की ओर बढऩे लगा है। कई जगहों पर आंदोलनकारी पटरियों पर पहुंच गए हैं। कोठड़ी गेट पर पटरी उखाड?े की कोशिश की खबरें भी सामने आ रही हैं। आंदोलन के मध्यनजर सुरक्षा की दृष्टि से रेलवे ने कई ट्रेनों को रोक दिया है। सवाई माधोपुर रेलवे स्टेशन पर अवध एक्सप्रेस को रोका गया है। साथ ही बयाना सहित चार-पांच जगहों पर ट्रेनों को रोक लिया गया है। रेल प्रशासन ने सुरक्षा को लेकर ट्रेनों को रोकने का निर्णय लिया है। गुर्जर आंदोलन से दिल्ली-मुम्बई मार्ग पर ट्रेनों का संचालन गड़बड़ाया गया है। रेलवे प्रशासन बराबर ट्रेक के बारे में सूचनाएं ले रहा है।

भरतपुर सम्भाग के सवाईमाधोपुर जिले में गुर्जर आरक्षण आंदोलन के मद्देनजर पुलिस एवं प्रशासन सतर्क हो गया है। जिले में रेलवे ट्रैक एवं राष्ट्रीय राजमार्गो पर सुरक्षा बल तैनात कर निगरानी रखी जा रही है। सूृत्रों के अनुसार गुर्जर नेता किरोड़ी सिंंह बैंसला की सरकार को आंदोलन की चेतावनी के बाद सम्भाग से गुजरने वाले दिल्ली-मुंबई रेलमार्ग के भरतपुर, बयाना, हिंडौन और सवाईमाधोपुर रेलवे स्टेशनों सहित पूरे रेलवे ट्रैक पर सुरक्षाबलों की कई कंपिनयां, रेलवे प्रोटेक्शन सिक्योरिटी फोर्स, आरएसी तैनात की गई है और आंदोलन की तमाम हलचल पर नजर रखी जा रही हैं।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top