Breaking News

‘वायु’ से निपटने को गुजरात अलर्ट, पीएम की नजर

Gujarat Alert, PM's handling of 'air'
  • 10 जिले, जो तूफान से होंगे प्रभावित

  • तीनों सेनाएं, तटरक्षक बल सभी अलर्ट

  •  गुजरात से हटाए गए 3 लाख लोग

नई दिल्ली। अरब सागर से गुजरात की ओर बढ़े चक्रवाती तूफान ‘वायु’ का असर अभी से दिखने लगा है। कई तटीय इलाकों में धूल भरी आंधी और समंदर में ज्वार उठ रहा है। सोमनाथ मंदिर के आसपास आंधी आने की तस्वीरें भी आई हैं। आसमान में बादल छाए हुए हैं और तेज हवाएं व धूल भरी आंधी चलने से आम जनजीवन प्रभावित हुआ है। उधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि केंद्र सरकार गुजरात के हालात पर बराबर नजर रखे हुए हैं। पीएम मोदी ने ट्वीट कर कहा, ‘केंद्र सरकार चक्रवाती तूफान वायु के कारण गुजरात और भारत के अन्य हिस्सों में पैदा हुए हालात की निगरानी कर रही है।’ उन्होंने कहा कि मैं राज्य सरकारों के साथ लगातार संपर्क में हूं। दूसरी एजेंसियां हरसंभव सहायता उपलब्ध कराने के लिए लगातार काम कर रही हैं।

  • चौपाटी बीच पर हवाएं, ऊंची लहरें

आपको बता दें कि मौसम विभाग के अनुसार चक्रवाती तूफान गुरुवार सुबह गुजरात के पोरबंदर और कच्छ जैसे तटीय इलाकों से टकरा सकता है। पोरबंदर में चौपाटी बीच पर बुधवार शाम को तेज हवाएं चल रही हैं और समंदर में ऊंची लहरें भी उठ रही हैं। गुजरात राज्य आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने जानकारी दी है कि शाम 4 बजे तक कुल 1,64,090 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया जा चुका है।

  • आ रहा ‘गंभीर चक्रवाती तूफान’, गुजरात अलर्ट

राज्य सरकार ने सौराष्ट्र और कच्छ के निचले इलाकों से करीब 3 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाने के लिए व्यापक अभियान शुरू किया है। फिलहाल चक्रवात ‘गंभीर चक्रवाती तूफान’ में तब्दील हो गया है और यह गुजरात के वेरावल तट के करीब 340 किलोमीटर दक्षिण में स्थित है। मौसम विभाग ने एक बयान जारी कर बताया कि यह वेरावल के निकट तट पर 13 जून की सुबह बहुत गंभीर चक्रवाती तूफान के तौर पर पहुंचेगा और इस दौरान 145 से 155 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चलेंगी।

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top