परीक्षा सेंटर्स पर छात्रों के उतरवाए जूते, लड़कियों की काटी नाक की बाली

0
Good Exam Ajmer

 नकल रोकने के लिए जांच ऐसी कि प्लास से  नाक की बाली काट दी

जांच में जबरदस्त सख्ती, जेवर तक उतरवा दिए

अजमेर । यहां नीट परीक्षा देने रविवार को पहुंचे अभ्यर्थियों को कड़ी तलाशी से गुजरना पड़ा। परीक्षा सेंटर्स पर छात्रों से जूते उतरवा दिए गए। ऐसे में मजबूरी में उन्हें तपती जमीन पर नंगे पांव खड़े रहना पड़ा। वहीं, नाक में बाली पहनकर पहुंचीं लड़कियों की बाली को काट दिया गया।

यही नहीं, अजमेर के ऑल सेंट्स स्कूल में लड़कियों की नाक की बाली कान के बुंदे सहित अन्य आभूषणों को काटने के लिए पुरुष कर्मियों को लगाया गया। वहीं, जांच में देरी के चलते कई सेंटर्स पर 40 डिग्री से अधिक तापमान में छात्रों को चेकिंग के नाम पर बाहर खड़े रहना पड़ा।

 पहली बार नीट 2019 का परीक्षा आयोजित की है। सीबीएसई से अलग होकर पहली बार यह परीक्षा एनटीए करा रही थी। परीक्षा दोपहर 2 बजे शुरू होनी थी। लेकिन परीक्षार्थियों को 12:30 बजे से ही परीक्षा केंद्र पर पहुंचने के निर्देश दिए गए थे।

नीट की परीक्षा में अजमेर में 9000 जबकि राजस्थान में 99 हजार अभ्यर्थियों को एडमिट कार्ड इश्यू किए गए। वहीं, देशभर से करीब 15 लाख से ज्यादा अभ्यर्थियों ने आवेदन किया। हालांकि, परीक्षा की शुचिता बनाए रखने के लिए एनटीए ने पहले ही गाइडलाइन जारी कर ड्रेस कोड तय किया था। इसमें था कि छात्र बड़े जेब वाले जींस और छात्राएं फुल स्लीव वाली ड्रेस पहनकर परीक्षा देने नहीं आ सकती हैं।

साथ ही, छात्राओं के लिए झुमके, ईयरिंग्स, अंगूठी, पेंडेंट, नोज रिंग, नेकलेस या अन्य ज्वेलरी पहनकर परीक्षा देने पर रोक लगाई थी। वह ऊंची हील की सैंडिल या जूते पहनकर परीक्षा केंद में नहीं जा सकती।

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।