Breaking News

बेटियों को मौका तो दो, जरूर चमकाएंगी नाम

Give chance to daughters, definitely shine the name

सराहनीय : बेहतरीन सुविधाओं के साथ शिक्षा का उजियारा भर रहा डीएवी कॉलेज

  • हरियाणा सरकार से मान्यता प्राप्त शिक्षण संस्थान को मिला है बी प्लस प्लस ग्रेड

सच कहूँ / लाजपत राय यमुनानगर। बेटियों के लिए शिक्षा व उसकी गुणवत्ता समाज के विकास तथा उसकी सामाजिक दशा और दिशा तय करती है। यदि उन्हें अच्छे अवसर मिलें तो वे भी अंतरिक्ष यात्री कल्पना चावला, सुनीता विलियम्स, पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी, पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और वित्त निर्मला सीतारमण की तरह अपने माता-पिता, गाँव, जिले, राज्य और देश का नाम चमकाएंगी। इसमें सर्वाधिक महत्वपूर्ण है शिक्षण संस्थान में मिलने वाली सुविधाएं जैसे  फेकल्टी, लैब्स, लाइब्रेरी, हॉस्टल व ट्रांसपोर्ट आदि। इसी को ध्यान में रखते हुए सच कहूँ आज आपसे रूबरू करवा रहा है जिले के ऐसे ही शिक्षण संस्थान डीएवी गर्ल्ज कॉलेज से।

  • जिले में हैं कुल 15 कॉलेज, चार गर्ल्ज

यमुनानगर में कुल 15 कॉलेज है, जिनमें से चार गर्ल्स कॉलेज है। जिनमें तीन कॉलेज एडिड हैं, एक कॉलेज सेल्फ फाइनेंशियल हैं, जिनमें शिक्षित होकर हर साल हजारों लड़कियां अपना भविष्य उज्जवल कर रही हैं। इन कॉलेजों में लड़कियों की उच्च शिक्षा हेतु बेहतरीन प्रबन्ध हैं, जिससे जिले की बेटियां उच्च शिक्षा प्राप्त कर अच्छे पदों पर आसीन हों।

  • यमुनानगर में 1958 में हुआ स्थापित

डीएवी गर्ल्स कॉलेज की स्थापना यमुनानगर में 1958 में की गई थी। यह कॉलेज डीएवी प्रबन्ध समिति दिल्ली द्वारा संचालित है तथा हरियाणा सरकार से मान्यता प्राप्त है। गत दिनों हुए सर्वेक्षण में कॉलेज को बी प्लस प्लस ग्रेड मिला है।

  • ये कोर्स हैं उपलब्ध

कॉलेज में सभी तरह के कोर्सिस उपलब्ध हैं। वर्तमान दौर के मद्देनजर फैशन डिजाइनिंग का पोस्टग्रेजुएट डिप्लोमा भी हैं, जिसमें सभी स्ट्रीम की लड़कियों प्रवेश ले सकती हैं। यह सुविधा जिले के अन्य कॉलेजों में नहीं है। वहीं कॉलेज में 22 कोर्स ऐसे हैं, जो 3 से 6 माह में कोई भी छात्रा अन्य किसी भी कक्षा के साथ कर सकती हैं, जैसे म्यूजिक, कटिंग टेलरिंग, सेल्फ ग्रूमिंग, बेकरी एन्ड कन्फेक्शनरी व फाइन आर्ट्स आदि।

इसके अलावा बीए मास कम्युनिकेशन, बीए आॅनर्स इन इंग्लिश, मैथमेटिक्स, इकोनॉमिक्स, साइकोलॉजी। बीकॉम आॅनर्स बैंकिंग एंड इन्श्योरेंस, ई-कॉमर्स। बीएससी इंडस्ट्रियल माइक्रोबायोलॉजी, बायो-टेक्नोलॉजी, होन्स मैथ, होम साइंस, फैशन डिजाइनिंग, बीसीए। पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री कोर्सेज-एमए अप्लाइड योगा एंड हेल्थ, एमए ह्यूमन राइट्स एंड वैल्यू एजुकेशन, एमएससी मैथ, कंप्यूटर सार्इंस(सॉफ्टवेयर)। पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा कोर्सेज में स्किन एंड हेयर थेरेपी, योगा थेरेपी, न्यूट्रिशन एंड डायटेटिक्स, फैशन डिजाइनिंग, कंप्यूटर एप्पलीकेशन। पोस्ट ग्रेजुएट डिग्री कोर्सेज-एमए इकोनॉमिक्स, इंग्लिश, एमकॉम।
अच्छे पदों पर आसीन पूर्व छात्राएं

हिमानी शर्मा कॉमर्स प्रोफेसर, आकांक्षा गोगिया आर्य पीजी कॉलेज पानीपत में प्रोफेसर, स्तुति सेठी सेंटर मैनेजर हेड लक्मे सैलून यमुनानगर, प्रियंका कॉमर्स विभाग में गेस्ट फेकल्टी में प्रोफेसर, ज्योति बैंक में कार्यरत।

को-एड की अपेक्षा गर्ल्स कॉलेज में छात्राएं अपने आप को ज्यादा सहज महसूस करती हैं और नि:संकोच शिक्षा प्राप्त करती हैं। वहीं माता-पिता भी बिना हिचकिचाहट उन्हें भेजते हैं। वहीं मुख्यमंत्री मनोहर लाल की सरकार भी बेटियों की शिक्षा के लिए काफी अच्छे प्रयास कर रही है, जिसमें सभी को भागीदारी सुनिश्चित करनी चाहिए।
-डॉ. विभा गुप्ता, कॉलेज प्रिंसिपल

 

Hindi News से जुडे अन्य अपडेट हासिल करने के लिए हमें Facebook और Twitter पर फॉलो करें।

लोकप्रिय न्यूज़

To Top